स्पेन में यदि गिरा मौत का आंकड़ा तो लॉकडाउन से मिल सकती है राहत

मेड्रिड: पिछले कई दिनों से लगातार हाहाकार मचा रहा कोरोना वायरस अब थमने का नाम नहीं ले रहा है. हर दिन इस वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है, जिसके कारण आज मानवीय पहलू तबाही की कगार पर पहुंच चुका है. हर दिन इस वायरस के कारण न जाने ऐसे कितने परिवार है जी मौत का शिकार हो रहे है, वहीं इस वायरस का संक्रमण लोगों की जान का दुश्मन बनता जा रहा है रोजाना इसकी चपेट में आने से लाखों लोग संक्रमित हो रहे है. यदि हम बात करें दुनियाभर में मरने वालों की तो अब तक 2 लाख 39 हजार से अधिक लोगों की मौते हो चुकी है. 

वहीं अब इस वायरस ने एक गंभीर महामारी का रूप भी ले लिया है, जंहा इस वायरस से बढ़ती जा रही महामारी का शिकार आज के समय में ऐसा कोई भी नहीं है जो नहीं हो रहा हो, कोरोना महामारी के कारण लोगों के घरों में खाने की किल्लत बढ़ती जा रही है, जंहा इस वायरस से फैली महामारी का खौफ स्पेन में सबसे अधिक पाया गया और लोगों में इस महामारी के फैलने से दहशत भी बढ़ती जा रही है.

स्पेन में लोगों के बाहर निकलने के समय पर विचार-विमर्श शुरू: स्पेन में किस-किस समय पर लोग बाहर निकल सकेंगे, सरकार ने इसकी योजना बनानी शुरू कर दी है. योजना बनाते समय दूसरे दौर का संक्रमण नहीं फैले, इस पर सबसे ज्यादा ध्यान दिया जाएगा. पिछले सप्ताह प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने कहा था कि दो मई से वयस्क लोगों को एक्सरसाइज और बाल कटाने सहित कुछ अन्य जरूरी सेवाओं के लिए छूट दी जाएगी. देश में गुरुवार को 268 लोगों की मौत हुई. 20 मार्च के बाद यह पहली बार है जब एक दिन में इतने कम लोगों की मौत हुई है.

इस देश में 'महिला खतना' घोषित हुआ अपराध, होगी तीन साल की सजा

कतर फीफा वर्ल्ड कप 2022 के ब्रांड एंबेसडर कोरोना के हुए शिकार

चीन पर ट्रम्प का सीधा हमला, कहा- वूहान लैब से ही निकला कोरोना वायरस, मेरे पास सबूत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -