TMC को वोट नहीं दिया तो इलाके की जल आपूर्ति रोकी..! बंगाल में सड़क पर क्यों उतरे लोग ?

TMC को वोट नहीं दिया तो इलाके की जल आपूर्ति रोकी..! बंगाल में सड़क पर क्यों उतरे लोग ?
Share:

कोलकाता: एक परेशान करने वाले घटनाक्रम में, पश्चिम बंगाल के आसनसोल शहर के कुल्टी मोहल्ले के निवासियों ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC) सरकार पर 2024 के लोकसभा चुनाव परिणामों के बाद क्षेत्र में पानी की आपूर्ति में कटौती करने का आरोप लगाया है। रिपोर्ट के अनुसार, इस इलाके में लंबे समय से पानी की गंभीर समस्या है। स्थानीय लोगों के अनुसार, सरकार ने महत्वपूर्ण चुनावों से पहले इलाके में पानी की कमी को दूर करने के लिए कई पानी के टैंकर भेजे थे।

उन्होंने बताया कि चुनाव नतीजों के बाद कुल्टी में भेजे जाने वाले पानी के टैंकरों की संख्या में भारी कमी कर दी गई है। साथ ही, एक दिन में पाइप से पानी की उपलब्धता 30 मिनट से घटकर अधिकतम 15-20 मिनट रह गई है। परिस्थितियों से मजबूर होकर कुल्टी के निवासियों ने ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया और जल संकट के तत्काल निवारण की मांग की, जिसे कथित तौर पर सत्तारूढ़ पार्टी ने और बदतर बना दिया है।

पीड़ितों ने आसनसोल बराकर जी टी रोड पर गिरे हुए पेड़ों का इस्तेमाल कर अवरोध खड़ा कर दिया और बैरिकेड लगा दिए। उनके साथ भाजपा विधायक (पश्चिम बर्धमान) अजय कुमार पोद्दार भी शामिल हुए। इस मामले पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि," जल ही जीवन है। इलाके में लोगों को पानी नहीं मिल रहा है। नतीजतन, लोग सड़कों पर उतरने को मजबूर हैं। यह विरोध किसी राजनीतिक पार्टी के कहने पर नहीं किया जा रहा है। पहले रोजाना चार पानी की टंकियां आती थीं। अब यह घटकर एक रह गई हैं।"

उन्होंने आगे जोर देते हुए कहा कि, "वे बुनियादी ढांचे का निर्माण नहीं कर सके। घरों में पाइप लगाए गए हैं लेकिन पानी नहीं है। TMC इस क्षेत्र में हार गई और इसलिए उन्होंने हमारी पानी की आपूर्ति काट दी।" इस बीच, सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने आरोपों से इनकार किया है। आसनसोल के मेयर बिधान उपाध्याय ने दावा किया है कि, "भाजपा द्वारा लगाए गए आरोप निराधार हैं। आसनसोल दक्षिण में भी भाजपा ने अच्छा प्रदर्शन किया था। तब वहां भी पानी बंद हो जाता। असली कारण यह है कि तूफान और बारिश के कारण पानी की लाइनों में समस्याएँ पैदा हुई हैं। लेकिन सब ठीक हो जाएगा। हमारी सरकार और नगरपालिका किसी राजनीतिक मकसद से काम नहीं करती। भाजपा चुनाव हारने के बाद बहाने बनाने के लिए जानी जाती है। यही उनका काम है।"

बता दें कि,  बंगाल में चुनाव के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले के बारे में बताते कई वीडियो सामने आए हैं। महिलाएं कह रहीं हैं कि, उनके पति भाजपा कार्यकर्ता थे, इसलिए उनपर हमला किया गया और वे घर छोड़कर भागने के लिए मजबूर हो गए। एक महिला ने तो यहाँ तक कह दिया था कि, ''ममता दीदी हमें जहर दे दे, ताकि हम शांति से मर सकें, क्योंकि हम घर से बाहर भी नहीं निकल पा रहे, घर के पुरुष हैं नहीं, बच्चों को क्या खिलाएं ?''     

वहीं, इस महीने की शुरुआत में, एक एक्स यूज़र 'शुभम' ने जानकारी दी थी कि कोलकाता में एक हाउसिंग सोसाइटी के लोगों को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पक्ष में मतदान करने के लिए तृणमूल कांग्रेस (TMC) सरकार द्वारा दंडित किया जा रहा था। यूज़र ने बताया कि मध्य कोलकाता के बेलेघाटा इलाके में 'सनराइज हाइट्स' के बाहर कचरा फेंका जा रहा है, क्योंकि आवासीय परिसर के 543 निवासियों ने टीएमसी के खिलाफ मतदान किया था। इसके तुरंत बाद, तृणमूल कांग्रेस के राज्य महासचिव नीलांजन दास ने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर इस घटनाक्रम की पुष्टि की। उन्होंने हाउसिंग सोसाइटी के बाहर कूड़ा फेंकने की कार्रवाई को 'बदले का अहिंसक तरीका' करार दिया।

भाजपा ने टीएमसी की इस अपमानजनक हरकत की निंदा की है। ट्वीट में कहा गया है, "टीएमसी के राज्य महासचिव ने बेशर्मी से कोलकाता हाउसिंग सोसाइटी के सामने कूड़ा फेंकने का दावा किया है, क्योंकि उन्होंने उनके खिलाफ वोट करने की हिम्मत की है।" पार्टी ने कहा, "क्या यही 'लोगों की सेवा' है? शुद्ध ठगी और धमकी।" सोशल मीडिया पर आक्रोश के बाद नीलांजन दास ने अपना विवादित ट्वीट हटा दिया।

त्यौहार बकरीद का, लेकिन काटना है गाय ! गुजरात से मौलाना मौलाना अब्दुल रहीम राठौड़ गिरफ्तार

क्या रियासी आतंकी हमले में स्थानीय कश्मीरी भी शामिल थे ? NIA खोलेगी राज़, गृह मंत्रालय ने सौंपी जांच

कल 8 तो आज 4 ढेर ! छत्तीसगढ़ और झारखंड में 'लाल आतंक' का सफाया जारी

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -