'अगर आशीष मिश्रा बाहर आया, तो जेल के बाहर देंगे धरना..', राकेश टिकैत की चेतावनी

लखनऊ: भारतीय किसान यूनियन (BKU) के नेता राकेश टिकैत ने मंगलवार को कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर सुप्रीम कोर्ट तक जाएगा, जिसमें चार किसानों समेत आठ लोग मारे गए थे। बता दें कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ के बेटे आशीष मिश्रा इस मामले में मुख्य आरोपी हैं और इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उन्हें 10 फरवरी को जमानत दे दी थी। 

आशीष मिश्रा के मंगलवार शाम पांच बजे तक जेल से बाहर आने की संभावना जताई जा रही है। इस पर टिकैत ने चेतावनी देते हुए कहा है कि आशीष कोे जेल से बाहर किया गया तो हम जेल के बाहर ही धरने पर बैठ जाएंगे। किसान आंदोलन का एक प्रमुख चेहरा रहे राकेश टिकैत ने उत्तर प्रदेश में जारी विधानसभा चुनावों के बीच भाजपा पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि कुख्यात लखीमपुर खीरी मामले को पूरे देश और दुनिया ने देखा। इस जघन्य अपराध करने के बाद भी आशीष मिश्रा को तीन महीने के अंदर जमानत मिल जाती है। टिकैत ने प्रेस वालों से कहा कि हर कोई इसे देख रहा है।

टिकैत ने आगे कहा कि, 'तो क्या ऐसी तानाशाही सरकार की आवश्यकता है, या ऐसी व्यवस्था की जरूरत है, जिसमें कोई व्यक्ति जो एक वाहन के नीचे लोगों को कुचलता है वह तीन महीने के अंदर जेल से बाहर निकल जाता है। आने वाले वक़्त में वे जनता के साथ कैसा व्यवहार करेंगे? ये हमारे मुद्दे हैं और लोगों को समझने की आवश्यकता है।'

तेलंगाना सीएम KCR के खिलाफ असम में मामला दर्ज, भारतीय सेना का अपमान करने का आरोप

46 साल कांग्रेस में रहने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार ने छोड़ी पार्टी, बताया ये बड़ा कारण

सरकारी नौकरी के नाम पर भाजपा नेता ने लिए पैसे, पार्टी ने 6 साल के लिए किया निलंबित

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -