छत्तीसगढ़ के CRPF कैंप के जवानों को मौत के घाट उतारने वाले जवान की हुई पहचान

रायपुर: छतीसगढ़ के सुकमा स्थित CRPF कैंप में बीते सोमवार की भोर में जवानों के मध्य हुए खूनी संघर्ष का आरोपित जवान रितेश रंजन जहानाबाद जिले के घोसी थाना इलाके के वैना गांव का निवासी है। बीते सोमवार की तड़के गोलीबारी में अपने 4 साथियों को मौत घाट उतारने के आरोपित जवान के गांव में प्रातः इस घटना की जानकारी पहुंची तो वहां रहने वाले सभी लोग हैरान हो गए। गांव में सोमवार को सन्नाटा पसरा रहा।

जब मीडिया की टीम बैना गांव पहुंचकर उक्त जवान के घर एवं परिवारों के बारे में जानकारी लेना शुरू की कई लोगों ने कुछ भी बोलने से मना कर दिया। ग्रामीणों ने दबी जुबान में  कहा है कि CRPF में पदस्थापित जवान रितेश रंजन छत्तीसगढ़ राज्य के सुकमा में पदस्थापित था। रितेश रंजन के पिता को अभी तक इस बारें में कुछ भी पता नहीं है। उनके परिवार के बाकी सदस्यों ने भी इस घटना से अनभिज्ञता जतायी। उसकी पत्नी जो वर्तमान में जहानाबाद जिले के कसवां गांव स्थित अपने मायके में रह रही है को केस की जानकारी  प्राप्त हो चुकी है। जवान की पत्नी से फोन पर बात की गई, लेकिन उसने कुछ भी बताने से मना कर चुकी है।

ग्रामीणों से जानकारी मिली है कि रितेश रंजन की बहाली CRPF मैं कॉन्स्टेबल के पद पर भर्ती साल 2011 में हुई थी। छुट्टी में घर लौटने के उपरांत काफी दिनों तक उसने पोस्ट पर योगदान नहीं किया था। ग्रामीणों के अनुसार बीते साल 2012-13 में उसकी शादी कसवां गांव में हुई। बीते छह महीने से वह घर नहीं आया है।

मणिपुर में आज फिर आया भूकंप, कल भी डोली थी धरती

हाड़ मांस का जर्जर सा शरीर, देह पर पारंपरिक धोती, नंगे पैर और हाथ में पद्म श्री .....।

रिलीज होते ही निरहुआ-आम्रपाली के छठ गीत ने मचाया धमाल, लोग बोले- गजब...

Most Popular

- Sponsored Advert -