ऑनलाइन ठगी के पीड़ितों को राहत देने आ गया बीमा, मात्र साढ़े छह रुपए है प्रीमियम

ऑनलाइन ठगी के पीड़ितों को राहत देने आ गया बीमा, मात्र साढ़े छह रुपए है प्रीमियम

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के दौर में जब डिजिटल ट्रांजैक्शन में इजाफा हुआ है, ऑनलाइन ठगी के मामले भी बढ़ते जा रहे हैं. चाहे आम आदमी हो या खास हर कोई इसकी चपेट में आ रहा है। ऐसे में लोगों को राहत देने के लिए ICICI लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी एक बीमा पालिसी लेकर आई है. उल्लेखनीय है कि ऑनलाइन ठगी करने वाले अक्सर लोगों की गुप्त डिटेल जानकर उनके क्रेडिट कार्ड से लंबी शॉपिंग कर लेते हैं या उनका बैंक एकाउंट पर हाथ साफ़ कर देते हैं.

ऐसे लोगों को बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनी से काफी कम मामलों में राहत मिल पाती है. इसी के मद्देनज़र ICICI लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी एक रिटेल साइबर लायबिलिटी इंश्योरेंस पॉलिसी लेकर आई है. इसके तहत लोगों को डिजिल जगत के खतरों से बचाने के लिए बीमा कवर​ दिया जाएगा. यह पॉलिसी लेने वाले के साथ ही उसके परिवार वालों को भी इसके तहत कवर मिलता है. जब किसी पॉलिसीधारक को किसी ऑनलाइन (साइबर) फ्रॉड या अन्य किसी तरीके से डिजिटल ट्रांजैक्शन में काफी आर्थिक नुकसान होता है, तो इस बीमा पॉलिसी से उनके नुकसान की भरपाई की जाती है. 

यह पालिसी काफी किफायती भी है. इसका प्रीमियम रोज़ाना 6.5 रुपये से लेकर 65 रुपये तक है. इसके पुलिस के तहत  50,000 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये सम इंश्योर्ड तक होता है. यानी आपको अगर किसी ऐसी ठगी से 50 हजार रुपये से लेकर 10 लाख तक का नुकसान होता है, तो बीमा कंपनी इसकी भरपाई करेगी. इसमें एक वर्ष तक पॉलिसीधारक का परिवार उसके बच्चों समेत कवर होता है.

शेयर बाज़ार में फिर लौटी बहार, सेंसेक्स 35 हज़ार के पार

पेट्रोल-डीजल के दाम में क्या हुआ बदलाव ? जानिए आज के भाव

तीरंदाज दीपिका कुमारी बंधने जा रही है शादी के बंधन में, शुरू हुई हल्दी की रस्मे