'मेरे पास संसद के गोपनीय दस्तावेज़ थे, CBI ने जब्त कर लिए..', रिश्वतखोरी के आरोपी कार्ति चिदंबरम का आरोप

नई दिल्ली: CBI ने हाल ही में भ्रष्टाचार से संबंधित मामले में कांग्रेस के लोकसभा सांसद कार्ति चिदंबरम के आवास सहित कई जगहों पर छापेमारी की थी। अब कार्ति चिदंबरम ने आरोप लगाते हुए कहा है कि छापेमारी के दौरान CBI ने देश की संसद से संबंधित गोपनीय दस्तावेज भी जब्त कर लिए हैं। यही नहीं कार्ति चिदंबरम ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर CBI पर संसद के विशेषाधिकार के उल्लंघन का भी इल्जाम लगाया। 

कार्ति चिदंबरम ने इस मामले में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से शिकायत भी की है। उन्होंने लोकसभा स्पीकर को पत्र लिखते हुए कहा है कि, मैं संसद की सूचना और प्रौद्योगिकी की स्थायी समिति का सदस्य हूं। CBI ने तथाकथित छापेमारी के दौरान समिति से जुड़े मेरे अत्यधिक गोपनीय और संवेदनशील व्यक्तिगत नोट्स और दस्तावेज़ जब्त कर लिए। कार्ति ने आरोप लगाया कि CBI ने उनके ड्राफ्ट नोट्स और उन सवालों को जब्त कर लिया, जो वे संसद में पूछना चाहते थे। उन्होंने यह भी दावा किया कि गवाहों द्वारा समिति को दिए गए बयानों से जुड़े उनके हस्तलिखित नोट भी CBI ने जब्त कर लिए। 

CBI ने कार्ति चिदंबरम को शुक्रवार को पूछताछ के लिए बुलाया था। कथित वीजा घोटाला मामले में पूछताछ के लिए कार्ति चिदंबरम जांच एजेंसी के कार्यालय पहुंचे थे। इस दौरान कार्ति चिदंबरम ने कहा कि, 'मुझे कॉल करना उनका विशेषाधिकार है और जाना मेरा कर्तव्य है।' बता दें कि कार्ति चिदंबरम पर आरोप है कि, उन्होंने अपने पिता पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के पद का गलत इस्तेमाल करते हुए चीनी नागरिकों को भारत का वीज़ा दिलवाया था और उसके बदले में 50 लाख रुपए रिश्वत लो थी। 

भगवंत मान को खाली करना होगा दिल्ली का सरकारी बंगला, केंद्र सरकार ने दिया नोटिस

'सपा अगर मेरा साथ ले लेती, तो आज सत्ता में होती...', शिवपाल ने भरी विधानसभा में भतीजे अखिलेश को मारा ताना

बादाम, पनीर, लस्सी.. क्या किसी कैदी को जेल में ये सब मिलता है ? सिद्धू को मिलेगा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -