स्नातक कक्षाओं के 90 हजार छात्र प्रमोट, कंपार्टमेंट वाले छात्रों के लिए भी बनेगी व्यवस्था

Nov 22 2020 12:42 PM
स्नातक कक्षाओं के 90 हजार छात्र प्रमोट, कंपार्टमेंट वाले छात्रों के लिए भी बनेगी व्यवस्था

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी शिमला की कार्यकारी परिषद (ईसी) की बैठक में स्नातक कक्षाओं में पहले एवं दूसरे सत्र के छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट करने का निर्णय लिया है। इनमें बीए, बीकॉम, बीएससी, बीबीए, बीसीए के लगभग 90 हजार छात्र सम्मिलित हैं। अकादमिक काउंसिल की सिफारिशों के अनुसार, यह निर्णय किया है। कुलपति प्रो. सिकंदर कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में 24 अध्यापकों को नियुक्ति दी है। वहीं, जिन छात्रों की पहले सत्र या वर्ष में कंपार्टमेंट है, उनके लिए भी एडमिनिस्ट्रेशन की तरफ से व्यवस्था (मैकेनिज्म) की जाएगी। यूनिवर्सिटी में छठे सेमेस्टर की परीक्षाएं जो छात्र नहीं दे पाए थे, उन्हें भी परीक्षा देने का अवसर दिया है।

बैठक में एचपीयू के गैर अध्यापक कर्मचारियों के लिए प्रस्तावित तबादला नीति को रद्द कर दिया है। डा. कके जैन मेमोरियल छात्रवृत्ति को 10 से बढ़ाकर 25 हजार करने का निर्णय लिया है। संकल्प संस्था के साथ कार्यों को एक और वर्ष आगे बढ़ाने का निर्णय लिया। बैठक में वित्त कमिटी की तरफ से स्वीकृत पदों के लिए बनाए गए भर्ती और पदोन्नति नियमों को स्वीकृति प्रदान की। इनमें यूनिवर्सिटी के मॉडल स्कूल के अध्यापकों के पद भी सम्मिलित हैं। ईसी सदस्य बिपन कुमार को वित्त कमिटी का सदस्य नामित किया है।

एचपीयू में पीजी स्तर पर एडमिशन में आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को 10 फीसद आरक्षण देने से लेकर एमबीबीएस एवं बीडीएस की ऑनलाइन काउंसिलिंग का काम का टेंडर करवाने के स्वीकृति दे दी है। केंद्रीय यूनिवर्सिटी में पीएचडी कर रही विद्यार्थियों की माइग्रेशन हिंदी विभाग में करने के मसले पर मुहर लगी है। बैठक में शिक्षा विभाग में सहायक आचार्य विवेकनाथ त्रिपाठी की सर्विस समाप्त करने की स्वीकृति दे दी है।

स्कूल के लिए नया ऐप SkEdu को इस दिन किया जाएगा लॉन्च

छात्र की आत्महत्या के बाद लेडी श्री राम कॉलेज ने की फीस छूट की घोषणा

असम में 400 से अधिक सरकारी भर्ती, मिलेगा 182400 तक वेतन