कांग्रेस ने RJD को मारा ताना, कहा- 'हमारे 19 विधायकों के बिना कैसे CM बनेंगे तेजस्वी...?'

पटना: बिहार की सियासत में उथल-पुथल का दौर और भी तेज होता जा रहा है. कांग्रेस-RJD  महागठबंधन में कुछ भी ठीक नहीं दिखाई दे रहा है. कांग्रेस और RJD के मध्य  की तल्खी इतनी अधिक बढ़ गई है कि बात अब खुलकर एक दूसरे के विरुद्ध बयानबाजी में लग गए है. बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने रविवार को RJD को आईना दिखाते हुए बोला कि आरजेडी नेता तेजस्वी यादव प्रदेश में सरकार नहीं बना सकते जब तक कांग्रेस के 19 विधायक उनका समर्थन न ही करें तो बेहतर है.

कांग्रेस का सम्मान करे आरजेडी: अपनी बात को जारी रखते हुए भक्त चरण दास ने आगे बोला है कि RJD को इस बात को समझना चाहिए कि 19 विधायकों का समर्थन कोई मामूली बात है. तेजस्वी अगर बिहार में सरकार बनाना चाहते हैं तो उनके पास कांग्रेस के 19 विधायकों का साथ होना बहुत ही जरुरी है. इसलिए उन्हें कांग्रेस का सम्मान करना चाहिए. उन्होंने ये भी बोला है कि अगर कांग्रेस मजबूत होगी तो आरजेडी सरकार बनाने के और करीब पहुंच जाएगी.

जानकारी मिली है कि बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने ये भी स्पष्ट किया है कि कुशेश्वर स्थान और तारापुर विधानसभा सीट पर कांग्रेस जीत के लिए मैदान में उतर चुकी है. विधानसभा उपचुनाव में इन सीटों पर कोई दोस्ताना लड़ाई नहीं की जा रही है. उन्होंने बोला है कि उपचुनाव में सब कुछ सामने आ जाएगा. RJD अगर गठबंधन धर्म नहीं निभाएगी तो सबसे बड़ी हानि उसे ही होगी.

हम बता दें कि बिहार में दो सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं. इन सीटों पर  जहां पर 30 अक्टूबर को वोटिंग की जाने वाली है. उपचुनाव के लिए महागठबंधन में टूट पड़ चुकी है. दोनों ही सीट पर कांग्रेस और RJD ने एक दूसरे के विरुद्ध उम्मीदवार खड़ा कर चुके है. कांग्रेस पहले चाहती थी कि कुशेश्वर स्थान सीट उसे प्राप्त हो जाए. कांग्रेस की दलील थी कि विधानसभा चुनाव में इस सीट से पार्टी का उम्मीदवार दूसरी जगह पर था. उपचुनाव में ये खींचतान तब है जबकि आम विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियां मिलकर लड़ी थीं.

अचानक नदी में पलटी नाव, कई लोगों की गई जान

दुर्घटनाग्रस्त हुआ वायुसेना विमान, हादसे में गई कई लोगों की जान

नहीं रहे अब्दुल कादिर खान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -