उलटी कैसे रोके

उलटी कैसे रोके

उलटी शरीर के विष और अन्य आततायी विषाणु के प्रति शरीर की एक स्वाभाविक प्रतिक्रया है | इसमें पेट में रखा खाना शारिरिक प्रतिक्रियाएं के कारण मुह से बहार आ जाता है | ये अत्यंत उबाऊ और थका देने वाला अनुभव होता है |

आइये जाने उलटी रोकने के उपाय :- 

1 बार-बार उल्टी हो रही हो तो, बर्फ चूसना शुरु कर दें।

2 बस में सफर करते समय जिन्हे उल्टियाँ होती है, उन्हें भी मुंह में एक लौंग रखकर चूसना लाभप्रद रहता है।

3 चार नींबूओं का रस, 50 ग्राम सेंधा का नमक, 125 ग्राम जीरा डालकर भीगने के लिए रख दें I जब नींबू का रस सूख जाये और केवल सुखा जीरा ही बचें तब उसे निकाल कर किसी डिब्बे में भरें के रख लें I दिन में तीन बार इसका आधा – आधा चम्मच सेवन करें

4 एक कागजी मिम्बु के दो टुकड़े कर ले। उन पर पिसा हुआ सेंधा नमक और काली मिर्च मिलाकर लगा ले और धीरे-धीरे चूस ले। देखते ही देखते जी मिचलाना कै होना, उल्टी होकर चक्कर आना मिटता है।

5 जब किसी दवा से वमन बंद न हो तो चुने का पानी एक चम्मच, दूध 125 ग्राम में मिलाकर दिन में दो बार पिए। इससे ज्वर की वमन, पीले बुखार की काली वमन भी बंद होती है। 

6 बारह ग्राम धनिया ( तीन चम्मच ) के चूर्ण को 250 ग्राम पानी में एक घंटे के लिए भिगो दे। स्वाद के लिए एक चम्मच मिश्री का चूर्ण भी मिला सकते है। एक घंटे बाद छानकर, एक-एक घंटे से बच्चो को एक चाय का चम्मच और बड़ो को एक ओंस ( 30 ग्राम ) की मात्रा से पिलाने से उल्टी रुक जाती है।

7 उल्टी महसूस होने पर थोड़ा सा अदरक का टुकड़ा अपने मुंह के अंदर रख ले और धीरे-धीरे चबाते रहें।

8 उल्टी रोकने का एक और तरीका है पुदीने की चाय बनाकर पी लें। पुदीने की पत्तितयों के सेवन से भी उल्टी को रोका जा सकता है।

9 आप थोड़ी सी दालचीनी का टुकड़ा पानी में उबाल लें और फिर उसमें शहद मिला लें, ऐसे धीरे पिये , उलटी बंद हो जाएगी |

स्वादिष्ट मौसंबी के सेहत भरे गुण100 मर्ज़ की एक दवा है आंवला