इस तरह जाने की आपकी कार की बैटरी कितनी चलेगी

इस तरह जाने की आपकी कार की बैटरी कितनी चलेगी

कई बार देखने में आता है कि अचानक कार की बैटरी धोका दे जाती है. कई बार किसी जरूरी काम से निकलना हो तब ऐसा ज्यादा होता है, लेकिन इस परेशानी से बचने के भी कई उपाय भी हैं. यहां हम कुछ खास उपाय बता रहे हैं जिनको करने से आप इस समस्या से बच सकते हैं. लेकिन इन बातों का आपको विशेष कर ध्यान रखना होगा.

22 KYMCO ने लॉन्च की ये शानदार स्कूटर, जानिए कीमत
  
आपकी जानकारी के लिए बता दे कि​ नई गाड़ी में पता होता है कि बैटरी कब से है. लेकिन जब फिर से नई बैटरी बदलते हैं तो तारीख नोट करके रख लें. आजकल बैटरी 3 से 4 में ही खराब हो जाती है. लेकिन यह इस बात पर भी निर्मर करता है कि आप बैटरी का ध्यान कितना रखते हैं. सिंपल सी बात है 3 साल के अन्दर ही बैटरी में धीरे-धीरे दिक्कतें आने लगती हैं.अक्सर कार सर्दी में जल्दी से स्टार्ट नहीं होती, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि बैटरी खराब है. आपको जानकर हैरानी होगी कि बैटरी गर्मी के मौसम में ज्यादा खराब होती है. इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि गर्मी में बैटरी जल्दी गर्म होती है और ओवरचार्ज होती है जिससे बैटरी जल्दी खराब हिने लगती है.  जो गाड़ियां रोजाना चलती है उनमे बैटरी ज्यादा समय तक चलती हैं. चलते रहने से बैटरी चार्ज होती रहती है. लेकिन जो लोग बहुत काम ड्राइव करते या कभी-कभी गाड़ी चलाते हैं इनकी बैटरी जल्दी खराब होने लगती है. 

ये जबरदस्त Rain Cover बचाएगा भयंकर धूप और बारिश से 

अगर हेडलाइट कम या ज्यादा हो रही हो रात में ड्राइव करते समय, फिर हॉर्न की आवाज़ में कमजोरी नजर आये तो समझ जाना चाइये कि बैटरी में गड़बड़ है. बैटरी के टर्मिनल के आस-पास सफेद निशान देखने को मिले तो समझ जाना चाइये कि बैटरी में गड़बड़ है. अगर स्पीडो मीटर में बैटरी की लाइट ठीक से नहीं दिख रही तो भी यह इस बात का संकेत है कि बैटरी ककी सेहत खराब है.अगर डेली ड्राइव नहीं करते तो एक दिन छोड़कर एक दिन आप अपनी कार को कुछ देर के लिए स्टार्ट कर दें. या फिर एक छोटा सा चक्कर लगा लें इससे बैटरी चार्ज हो जाएगी. इस बात पर जरूर ध्यान देना चाइये कि बैटरी अपनी जगह पर बिलकुल फिट है या नहीं, क्योकिं कई बार ढीली फिटिंग की वजह से चलती गाड़ी में बैटरी को नुकसान होता है.

भारतीय बाजार में UrDa Mobility की हुई एंट्री, जानिए खासियत

​जानिए क्या है Honda Activa 125 में ख़ास