पायलट कैसे बनते हैं ? ये है 5 तरीके...

Aug 11 2020 10:35 AM
पायलट कैसे बनते हैं ? ये है 5 तरीके...

बचपन में ऐसे कई बच्चे होते हैं, जो बड़े होकर पायलट बनना चाहते हैं. यह शब्द अपने बचपन में आसानी से हर बच्चे को सुनने को मिल जाता है. हमारे यहां बच्चा जब कोई काम अलग हटकर करता है तो उसे पायलट की संज्ञा दी जाती है. पायलट काफी बड़े पदों में से एक पद होता है. हम आपको बताने जा रहे हैं पायलट बनने के 5 तरीके. आइए जानते हैं पायलट बनने के बारे में...

पहला तरीका...

एयरफोर्स : आप इसके जरिए फाइटर, हेलिकॉप्टर और ट्रांसपोर्ट पायलट बन सकते हैं. एयरफोर्स में जाने के लिए आपको  NDA CDSE NCC AFCAT(SSC) Fast track selection जैसी परीक्षाओं से गुजरना होता है.

दूसरा तरीका...

इसकी मदद से आप नेवी में फाइटर ब्रांच में फाइटर, हेलीकॉप्टर और ट्रांसपोर्ट पायलट आदि बन सकते हैं. इसके लिए आपको NDA CDSE Indian navy recruitment(SSC) की परीक्षा से गुजरना होता है.

तीसरा तरीका 

इंडियन आर्मी : आप भारतीय आर्मी की एविएशन कॉर्प के तहत भी हेलीकॉप्टर पायलट बन सकते हैं. आपको इसके लिए NDA CDSE Indian army recruitment जैसी परीक्षाओं से गुजरना होता है.

चौथा तरीका

इसके लिए आपको Indian coast guard recruitment (Assistant Commandant Pilot/navigator) जैसी परीक्षा से गुजरना होता है. इंडियन कोस्टगार्ड के जरिए आप हेलीकॉप्टर और ट्रांसपोर्ट पायलट के पद पर नौकरी पा सकते हैं.

पांचवां तरीका 

कॉमर्शियल पायलट या सिविल एविएशन 

अधिकतर लोग कॉमर्शियल पायलट बनना चाहते हैं. इसकी पढ़ाई थोड़ी खर्चीली होती है. इसके लिए आपको कई तरह की टर्निंग दी जाती है. सर्वप्रथम आपको CPL (कॉमर्शियल पायलट लाइसेंस) की ट्रेनिंग से गुजरना होता है. अब आपको FROZEN ATPL और फिर ATPL की ट्रेनिंग मिलेंगी. बता दें कि आपको CPL लेवल की स्क्लि पर एविएशन कंपनियां नौकरी नहीं देंगी. अतः इसके लिए आपको ATPL की ट्रेनिंग लेना आवश्यक है. 

कॉमर्शियल पायलट बनने के लिए इन इंस्टीट्यूट में लें एडमिशन...

यूपी फ्लाइंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (रायबरेली), मध्य प्रदेश फ्लाइंग क्लब इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान एकेडमी, भुवनेश्वर करनाल एविएशन क्लब, हरियाणा गर्वेमेंट फ्लाइंग क्लब, यूपी स्कूल ऑफ एविएशन साइंस एंड टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली स्टेट सिविल एविएशन, कोलकाता गर्वेमेंट एविएशन ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट,  हैदराबाद असम फ्लाइंग क्लब, गुवाहाटी, असम बिहार फ्लाइंग इंस्टीट्यूट, पटना, बिहार आदि. 

कितना मिलता है वेतन ?

आर्मी, नेवी या कोस्टगार्ड में सैलरी पायलट को उनकी रैंक के मुताबिक़, पृथक-पृथक दी जाती है. जबकि कॉमर्शियल पायलट को औसत डेढ़ लाख रु वेतन दिया जाता है. 

 

 

कलेक्टर कैसे बनते हैं ?

IBPS RRB के परीक्षा का टाइम टेबल हुआ जारी, इस दिन से शुरू होगी परीक्षाएं

यूनिवर्सिटी एग्जाम मामला: याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने UGC से माँगा जवाब