पंजाब : छह जिलों में तांडव मचा सकता है कोरोना

पंजाब में कोविड-19 का कहर जारी है. पंजाब में कोरोना के केस हो रही बढ़ोतरी के मध्य सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 20 अगस्त को प्रदेश में संक्रमण को रोकने के लिए पांबदी से जुड़े नये निर्देश जारी किए हैं. मुख्यमंत्री ने बताया कि 21 अगस्त से राज्य के सभी 167 कस्बों और शहरों में शाम 7 बजे से सुबह 5 बजे तक रोजाना कर्फ्यू लगाने के साथ ही शादियों और अंतिम संस्कारों को छोड़कर सभी सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध लगाया गया है. जबकि सरकारी और प्राइवेट दफ्तर में वर्कफोर्स को 50% तक सीमित कर दिया गया और हफ्ते लॉकडाउन को 31 अगस्त तक बढ़ा दिया गया है.

उत्तर प्रदेश : इस स्थान पर बनेगा पहला औद्योगिक पार्क

बता दे​ कि पंजाब में 20 अगस्त को 1,741 कोरोना के केस आए. अब तक 24 घंटे में सबसे अधिक केस शुक्रवार को दर्ज किया गया. बता दें 11 अगस्त से निरंतर 1,000 या उससे ज्यादा केस दर्ज किए गए. पंजाब में 21 जून से 6 जुलाई तक 2,417 नये मामले आए. जिसके बाद 15 दिन की समयावधि में 1.55 गुना वृद्धि हुई. 21 जुलाई को समाप्त होने वाले 15 दिन की समयावधि में यह बढ़कर 1.81 हो गया, 5 अगस्त को वृद्धि दर 2.04 हो गई और 20 अगस्त को वृद्धि करीब 2 पर पहुंच गई. हालांकि 20 अगस्त तक पंजाब में केस की कुल तादाद 37,824 अभी भी मुल्क के 15 प्रमुख राज्यों में सबसे कम है.

कांग्रेस ने साकार पर किया हमला, कहा- पीएम केयर्स फंड पर प्रश्न पूछना "राष्ट्र-विरोधी"

प्रदेश ने प्रति मिलियन आबादी पर 28,100 सैंपल्स का परीक्षण किया है जो महाराष्ट्र, राजस्थान, गुजरात, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश की तुलना में अधिक है. इसकी कुल पाजिटिविटी दर फिलहाल 4.5% है जो राष्ट्रीय औसत 8.7% से कम है. सिर्फ प्रमुख राज्यों में, उत्तर प्रदेश, केरल और राजस्थान में बेहतर सकारात्मक दर है. हालांकि 1 अगस्त को पाजिटिविटी दर जो 1.83% थी वह 20 अगस्त को बढ़कर 2.88% हो गई है.

दिल्ली में आतंकियों की बड़ी साजिश नाकाम, बलरामपुर का ISIS आतंकी गिरफ्तार

ऐसे बना है इंदौर स्वच्छता में नंबर वन, बहते पानी में हुई सफाई, वीडियो वायरल

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सेहत में कोई सुधार नहीं, अब भी जीवनरक्षक प्रणाली पर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -