पिता ने क्यों की अपनी बेटी की हत्या

उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले के दनकौर क्षेत्र में मंगलवार को एक युवती की लाश बरामद हुई थी. उसकी हत्या कर लाश को वहाँ फेंक दिया गया था. पुलिस ने उसके मौत के राज़ से पर्दा उठाते हुए उसके पिता, चाचा और ड्राईवर को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस का दावा है कि यह ऑनर किलिंग का मामला है.

युवती की पहचान बुलंदशहर जिले के अधिवक्ता ओमवीर सिंह की बेटी ज्योति के रूप में हुई. पूछताछ में परिजनों से संतोषजनक जवाब न मिलने पर पुलिस को शक हुआ. पुलिस ने युवती के पिता और चाचा को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो पिता ने सारी सच्चाई उगल दी. आरोपी पिता ओमवीर सिंह और चाचा करनपाल उर्फ कालिया ने बताया कि मृतका का प्रेमप्रसंग चल रहा था. जिसे खत्म करने के लिए वह बार-बार उसे बोल रहे थे, लेकिन वह सुन नहीं रही थी. बदनामी के डर से पिता-चाचा ने मिलकर अपनी ही बेटी की हत्या कर दी. फिर शव को दनकौर थाना क्षेत्र में फेंक दिया.

शव को ठिकाने लगाने के लिए उन्होंने गांव के ही भूदेव उर्फ भोले की वैगनआर कार मे ज्योति का शव रखकर दनकौर क्षेत्र में लाकर फेंक दिया. इस मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. हत्या में प्रयुक्त रस्सी और कार भी बरामद कर ली गई है.

नदी में मिला लापता युवती का शव, ऑनर किलिंग की आशंका

माँ-बेटी की हत्या का शक़ किशोर बेटे पर

बच्चे की कुकर्म के बाद हत्या

Most Popular

- Sponsored Advert -