घर पर बने गुलकंद से होगा छालों का इलाज़

यदि आपको भी बाजार की मसालेदार चीज़े खाने  का शौकहैं तो जाहिर सी बात हैं कि आपको मुँह में छाले होने की  परेशानी का सामना बार-बार करना पड़ता होगा. आज हम आपको बताने जा रहे हैं मुँह के छालों से छुटकारा पाने का घरेलु और आसान नुस्खा. तो चलिए पहले जानते हैं गुलकंद बनाने और उपयोग करने  कि विधि...

गुलकंद बनाने की सामग्री -

ताजी गुलाब की पंखुडियां - 250 ग्राम 
मिश्री - 250 ग्राम (पिसी हुई)
छोटी इलायची - एक छोटी चम्मच (पिसी हुई)
सौंफ - एक छोटी चम्मच (पिसी हुई)

गुलकंद बनाने की विधि -

सब से पहले इन पंखुडियों को धो लिजिए .
एक ढक्कन वाला कांच का बर्तन लिजिए .

इस बर्तन में थोडी पंखुडियां डालकर उस पर पीसी हुई मिश्री डाले फिर दुबारा यही प्रक्रिया दोहराये.जब तक सारी पंखुडियां और पीसी हुई मिश्री खत्म न हो जाए तब तक यह प्रक्रिया दोहरायें.

अब इस में पिसी हुई छोटी इलायची और पिसी हुई सौंफ दाल कर ढक्कन बंद कर के 8-10 दिन के लिये धूप में रख दें. बीच- बीच में इसे चलाते रहें.
जब मिश्री पानी छोड़कर पूरी तरह से पंखुडियों को गला दें. तो आप इस का सेवन कर सकते हैं .

आप इस गुलकंद का उपयोग दूध या पानी के साथ प्रतिदिन एक या दो बार कर सकते है. इससे आपके मुँह के चले और मसूड़ों की सूजन की समस्या ठीक हो जाएगी.

घरेलु इलाज़ से मिलेगा चिकेन पॉक्स की बीमारी से निजात

घरेलु तरीके अपनाकर घटाएं अपना वजन

अब पसीने की दुर्गन्ध से पाएं निजात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -