स्मरण शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय !!

एक शांत, स्थिर और कुशाग्र मस्तिश्क की आशा किसे नहीं है ? पर आज के जीवन की जटिलता,बदलती प्राथमिकता, गला काट प्रतिस्पर्धा, और शुद्ध (जैविक ) भोजन के अभाव में आज के मनुष्य में स्मृति का विस्मरण बहुत आम हो चला है,क्या बच्चे, क्या जवान ,लोगो की स्मरणशक्ति कमजोर हो जाती है, कुछ याद नहीं रहता तथा स्वभाव से वे भुलक्कड़ हो जाते हैं।

आइये जानते है स्मरण शक्ति तीक्षण करने के घरेलू उपाये :- 

1  सेब का सेवन  :-  
सेब के सेवन से स्मरणशक्ति बढ़ जाती है, लोह तत्व और अन्य खनिज की प्रचुरता शरीर की आवश्यक तत्वों की कमी पूरी करता है|

2 आंवला का सेवन  : – 
स्मरणशक्ति में वृद्धि के लिए प्रतिदिन प्रातः आंवले का प्रयोग किसी न किसी रूप में करे| चाहे तो चटनी , मुरबा, सत्व आदि ले सकते है|

3  गाजर खायें :-  
गाजर के रस को गाय के दूध के साथ समान अनुपात में मिलाकर पीने से स्मरणशक्ति में वृद्धि होती है|

4 बादाम और दूध का सेवन :- 
10 बादाम रात को पानी में भिगो दें। सुबह छिलके उतारकर बारीक पीस कर पेस्ट बना लें और अब एक गिलास गर्म दूध में बादाम का पेस्ट घोल कर इसमें 3 चम्मच शहद भी डालें। दूध जब हल्का गर्म हो तब पिएं। यह मिश्रण पीने के बाद दो घंटे तक कुछ न खाएं।

5 ब्राह्मी के रस और सत्व सेवन
ब्राह्मी स्मरण शक्ति बढ़ाने की मशहूर जड़ी-बूटी है। रोज इसका एक चम्मच रस और याददाश्त बेहतर बनाने में मदद करता है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -