घरेलु उपाय से उतारे ज़हर

प्रकृति की जीव व्यवस्था कुछ ऐसी है की हर जलवायु में आपको ज़हरीले जीव जंतु मिल जाएंगे | औधोगिक विकास के तहत इन्सान ने  इनके प्राकृतिक आवासों पर जमकर कुल्हाड़ी चलायी है, जिसका खामियाज़ा ये है की अब ये ज़हरीले जीव हमारे घर की और कूच करने लगे है, और अक्सर इनका दंश हमे पीड़ा या मोत दे सकता है |

आइये जाने जब जहरीले  कीडे/जंतु (साँप,बिछु,गौरंड ,छिपकली) काटे तब जहर कैसे उतारे :- 

1 जानवरों के काटने व सांप, बिच्छू, जहरीले कीड़ों के काटे स्थान पर अपामार्ग के पत्तों और मूल का ताजा रस लगाने और पत्तों का रस 2 चम्मच की मात्रा में 2 बार पिलाने से विष का असर तुरंत घट जाता है और जलन तथा दर्द में आराम मिलता है।

2 त्थर पर दो-चार बूँद पानी की डालकर उस पर निर्मली या इमली के बीज को घिसें। उस घिसे हुए पदार्थ को दर्दवाले स्थान पर लगायें एवं जहाँ बिच्छू ने डंक मारा हो वहाँ घिसा हुआ बीज चिपका दें। दो मिनट में ही बिच्छू का विष नष्ट हो जायेगा |

3 एक पत्थर को अच्छे से साफ कर उस उस पर फिटकरी को अच्छे से घिसें। जहां पर बिच्छु ने काटा है उस जगह पर इस लेप को लगाऐं और आग से थोड़ा सेकें । कैसे भी बिच्छु का जहर हो इस विधि से जहर दो मिनिट में उतर जाएसांप के जहर को दूर करने के लिए घी के साथ फिटकरी का उपयोग करके भी जहर के असर से राहत पाई जा सकती हैं| इसके लिए 60 ग्राम घी लें| 2 ग्राम फिटकरी लेकर उसे पीस लें| अब फिटकरी के चुर्ण को घी में मिला कर जहर से ग्रस्त व्यक्ति को पिलाये. जहर का असर कम हो जाएगा| जाएगा|

4 सांप के जहर के प्रभाव से बचने के लिए अरहर की जड का भी प्रयोग किया जा सकता हैं. इसके लिए केवल अरहर की जड़ लें और उसे खूब चबा चबा कर खाए, सांप के जहर का असर नही होगा|

5 अपराजिता की सुखी जड़ से पाउडर तैयार करें और उसमें गाय का घी मिलाकर पीड़ित व्यक्ति को खिलाएं. ध्यान रहें कि औषधि की मात्रा 12 ग्राम ही हो, ये सर्प दंश में रामबाण औषधि है |

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -