मुनक्के से लेकर जीरा-अजवाइन तक हैं कब्ज भगाने में मददग़ार, ऐसे करें इस्तेमाल

आज के समय में बेकार लाइफस्टाइल के चलते कई लोगों का पेट खराब रहता है। पेट में कब्ज बनी रहती है और इसके चलते वह कुछ खा नहीं पाते है। कब्ज (Constipation) के कारण पेट साफ नहीं होता और पेट साफ़ ना होने के कारण पूरे दिन आलस्य बना रहता है। इसी के साथ किसी काम में मन नहीं लगता। आप सभी जानते ही होंगे कब्ज की परेशानी के कारण मल त्यागने के लिए ज्यादा जोर लगाना पड़ता है, घण्टों बैठे रहना पड़ता है। केवल यही नहीं बल्कि व्यक्ति को बहुत सोच-समझकर खाना-पीना पड़ता है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कब्ज के घरेलू उपाय।

मुनक्के का सेवन- आप लगभग 8-10 ग्राम मुनक्के रात को पानी में भिगा दें और सुबह इसके बीज निकालकर दूध में उबाल कर खाएं, और दूध पी लें। ऐसे करने से कब्ज से राहत मिलेगी। 

एरण्ड का तेल- रात में सोते समय एक गिलास गर्म दूध में 1-2 चम्मच एरण्ड का तेल डालकर पिएं। कब्ज दूर करने का यह घरेलू इलाज सबसे बेहतरीन है।

बेल- बेल का फल कब्ज की समस्या के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल के लिए आप आधा कप बेल का गूदा, और एक चम्मच गुड़ का सेवन, शाम को भोजन से पहले से करें। आपको बता दें कि बेल का शरबत भी कब्ज में फायदा करता है।

जीरा और अजवायन- जीरे और अजवायन को धीमी आंच पर भून कर पीस लें। अब इसमें काला नमक डालकर तीनों को समान मात्रा में मिला कर डब्बे में रख लें। अब आप रोज आधा चम्मच की मात्रा में गुनगुने पानी के साथ पिएं। इससे लाभ होगा।

मुलेठी - एक गिलास पानी में एक चम्मच मुलेठी का चूर्ण और एक चम्मच गुड़ मिलाकर सेवन करें। जी दरअसल यह कब्ज की समस्या को ठीक करने में असरदार है।

सौंफ- रात में सोने से पहले एक चम्मच भुनी हुई सौंफ गरम पानी के साथ पिएं। आपको बता दें कि सौंफ में पाए जाने वाले उड़नशील तेल पाचन क्रिया को दुरुस्त करते हैं, तथा गैस्ट्रिक एंजाइम के उत्पादन को बढ़ाते हैं।

इस तरह करें बच्‍चों की इम्‍यूनिटी को मजबूत, जानिए आयुर्वेदिक उपाय

कोविड -19: जयपुर के स्कूल कक्षा 1-8 के लिए बंद, राजस्थान में नई गाइडलाइंस

लॉन्चिंग से पहले लीक हुई OnePlus के इस स्मार्टफोन की जानकारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -