होमगार्ड ने खून से लिखा प्रधानमंत्री को खत, मांगी इच्छा मृत्यु

जैसलमेर : राजस्थान के जैसलमेर जिले में कार्यरत होमगार्ड जवानों ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने खून से खत लिखा. खून से लिखे खत में होमगार्ड जवानों ने प्रधानमंत्री मोदी के समक्ष अपनी समस्याएं रख इच्छा मृत्यु की मांग की. खत में होमगार्ड जवानों ने लिखा कि जवानों का शोषण किया जा रहा है. उनका कहना है कि जवानों से साल भर में केवल मात्र पांच महीने ही सेवाएं ली जाती हैं. होमगार्ड जवानों ने इसके लिए खत में हड़ताल, चुनाव, आपातकालीन सेवा, बाढ़, भूकंप अन्य कानून व्यवस्थाओं का हवाला दिया.

होमगार्ड जवानों का कहना है कि अपनी मांगो के लिए वह हड़ताल, उत्पात और तोड़फोड़ भी कर सकते है, लेकिन वें ऐसा नहीं करना चाहते है क्यों कि इससे देश का अहित होता है. इसलिए होमगार्ड जवानों ने प्रधानमंत्री से मांग कि है कि या तो वें उन्हें नियमित करे या फिर उन्हें इच्छा मृत्यु की अनुमति दे. बता दे कि जैसलमेर जिले के होमगार्ड के अलावा आस-पास के जिलों से आए हुए करीब 199 होमगार्ड्स ने अपने-अपने खून से प्रधानमंत्री को पत्र लिखे है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -