होली के बाद शुरू हो जाएंगे चैत्र नवरात्र, जानिए किस दिन से होगी शुरुआत

Mar 13 2019 11:20 AM
होली के बाद शुरू हो जाएंगे चैत्र नवरात्र, जानिए किस दिन से होगी शुरुआत

आप सभी को पहले तो यह बता दें कि इस बार रंगों का त्यौहार यानी होली 21 मार्च को मनाया जाने वाला है. ऐसे में इस त्यौहार के बाद रंग पंचमी भी आएगी और फिर शुरू होगा चैत्र नवरात्र. जी हाँ, देश के अनेक भागों में होली का समापन फाग के दिन नहीं, बल्कि रंग पंचमी के दिन होता है. कहते हैं फाल्गुन महीने में वासंती उन्माद बसंत पंचमी से ही शुरु हो जाता है और उसी दिन होली पर जलाने वाले ध्वजों की स्थापना देश के तमाम नगरों और गांवों में करते हैं. ऐसे में बसंत का उल्लास चैत्र नवरात्र तक चलता है और फाल्गुन के कृष्ण और शुक्ल पदों में अनेक आराधना पर्व पड़ते हैं. ऐसे में शुरुआत में महाशिवरात्रि तक शिव और शक्ति की आराधना एक साथ करते हैं और उसके बाद होली तक फागुनी उन्माद देश पर छाया रहता है.

मान्यता है कि इन्हीं दिनों में पतझड़ शुरु हो जाता है और पतझड़ बीतने पर पुरवा हवाएं बसंत ले आती हैं. ऐसे में ज्योतिषों के अनुसार कुंभ संक्रांति से दो महीने चलने वाली बसंत ऋतु भी प्रारंभ हो चुकी है और इस मौसम में कड़ाके की ठंड लाने वाला 40 दिनों का चिल्ला समाप्त हो जाता है. इसी के साथ बसंती हवाएं मौसम को बदल देती हैं और तीन दिन बाद 14 मार्च को सूर्य के मीन राशि में आते ही मौसम एक बार तेजी से बदलना शुरु हो जाता है. ऐसे में होली के तत्काल बाद देश के तमाम भागों में भगवती के शीतला रूप की पूजा प्रारंभ होगी यह बात आप सभी जानते ही होंगे. कहा जाता है इस पूजा में डाकिनी, शाकिनी और पिशाचिनी की पूजा का भी शास्त्रीय विधान होता है और देश के तमाम शीतला मंदिरों में मेले लगने शुरू हो जाएंगे.

आज के समय में यह बताया गया है कि संवत्सर 5 अप्रैल को अमावस्या के पितृ तर्पण के साथ समाप्त हो जाएगा और उसके बाद 6 अप्रैल से चैत्र नवरात्र शुरू हो जाएंगे. आपको बता दें कि दुर्गाष्टमी से अगले दिन भगवान राम का जन्मोत्सव रामनवमी को मनाया जाएगा.

होलिका दहन से दो दिन पहले है प्रदोष व्रत, जानिए क्या है विधि

होली के दिन हनुमान जी को चढ़ाये यह पान, होगा हर समस्या का हल

होली के दिन पीले कपड़े में इस चीज़ को बांधकर रख दें तिजोरी में, हो जाएंगे मालामाल