हॉकी विश्व कप: भारत जीत सकता है 43 साल बाद खिताब

भुवनेश्वर: मेजबान भारत 14वें हॉकी विश्व कप में अपने अभियान की शुरुआत बुधवार शाम सात बजे शुरू करेगा। जानकारी के अनुसार बता दें कि यह मैच भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम पर खेला जाएगा। वहीं मेजबान भारत का पहला मैच दक्षिण अफ्रीका से होगा। यहां बता दें कि आठ बार के ओलंपिक चैंपियन भारत ने अब तक सिर्फ एक बार विश्व कप जीता है। तब अजित पाल सिंह की कप्तानी में भारतीय टीम 1975 में चैंपियन बनी थी। उसके पास 43 साल बाद एक बार फिर चैंपियन बनने का मौका है। 

मिताली राज ने किया बड़ा खुलासा, कहा कोच रोमेश पवार ने मेरे साथ किया है ये काम

यहां बता दें कि 16 देशों के टूर्नामेंट में भारतीय टीम विश्व कप के पूल सी में है। वहीं उसके साथ इस ग्रुप में दक्षिण अफ्रीका, बेल्जियम और कनाडा की टीमें हैं। भारत की वर्ल्ड रैंकिंग पांच है, भारत को दुनिया की तीसरे नंबर की टीम बेल्जियम से सतर्क रहने की जरूरत है। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका की रैंकिंग 15 और कनाडा की 11 है। बता दें कि विश्व कप का उद्घाटन मैच बेल्जियम और कनाडा के बीच होगा। 

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया: कोहली के पास होगा और 'विराट' बनने का मौका, सौरव गांगुली ने सुझाई रणनीति

गौरतलब है कि भारतीय टीम ने ओलंपिक में भले ही बादशाहत कायम की हो, लेकिन विश्व कप में वह पाकिस्तान, नीदरलैंड, जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया के स्तर तक पहुंचने में नाकाम रही। वहीं पिछले चार दशक से यूरोपीय टीमों ने विश्व हॉकी पर दबदबा बनाए रखा है। भारत ने 1975 के बाद सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1982 के विश्व कप में किया, जब वह पांचवें स्थान पर रहा। भारत के लिए पदक जीतना आसान नहीं होगा। इसके साथ ही उसे दो बार की गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया, नीदरलैंड, जर्मनी और ओलंपिक चैंपियन अर्जेंटीना जैसी टीमों से पार पाना होगा। 


खबरें और भी

इंग्लैंड ने 55 साल बाद दोहराया इतिहास, श्रीलंका को उसी के घर में 3-0 से रौंदा

ली लीगा: डेम्बेले के गोल से बार्सिलोना ने एटलेटिको मैड्रिड को बराबरी पर रोका

पाकिस्तान बनाम न्यूजीलैंड: यासिर शाह के तूफान में उड़ी पूरी न्यूजीलैंड टीम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -