नहीं रहा हॉकी का ये दिग्गज खिलाड़ी, जिनके सामने पाकिस्तान ने भी टेक दिए थे घुटने

ओलिंपिक एवं विश्व कप पदक विजेता टीम का भाग रहे हॉकी खिलाड़ी वरिंदर सिंह (Varinder Singh) का मंगलवार प्रातः जालंधर में देहांत हो गया। वर्ष 1970 के दशक में भारत की कई यादगार जीत का भाग रहे वरिंदर 75 वर्ष के थे। वरिंदर 1975 में कुआलालंपुर में पुरुष हॉकी विश्व कप में गोल्डन मैडल जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। यह इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भारत का अब तक का एकमात्र गोल्ड मेडल है।

वही भारत ने तब फाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 2-1 से पराजित किया था। वरिंदर 1972 म्यूनिख ओलिंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली टीम का हिस्सा थे तथा साथ ही एम्सटरडम में 1973 विश्व कप में रजत पदक जीतने वाली भारतीय टीम का भी वो भाग थे। वरिंदर की उपस्थिति वाली टीम ने 1974 एवं फिर 1978 एशियाई खेलों में भी रजत पदक जीता था। 

वही इसके अतिरिक्त वरिंदर 1975 मांट्रियल ओलिंपिक में भी भारतीय टीम में सम्मिलित थे। वरिंदर को 2007 में प्रतिष्ठित ध्यानचंद लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था। हॉकी इंडिया ने वरिंदर के निधन पर शोक व्यक्त किया है। हॉकी इंडिया ने प्रेस रिलीज में कहा, 'वरिंदर सिंह की कामयाबी को दुनिया भर का हॉकी समुदाय याद रखेगा।' 

'गलत समय में इंग्लैंड से भिड़ रही टीम इंडिया..', टेस्ट मुकाबले से पहले दिग्गज क्रिकटर ने दी चेतावनी

WWE में जॉन सीना ने पूरे किए 20 वर्ष

संदीप सिंह का बड़ा बयान, बोले- "भारत के पास टीम में कई ड्रैग फ्लिकर..."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -