जयपुर लोकसभा सीट: 1984 से लगातार जीत रहे हैं ब्राह्मण उम्मीदवार, कांग्रेस ने वैश्य को दिया टिकट

जयपुर लोकसभा सीट: 1984 से लगातार जीत रहे हैं ब्राह्मण उम्मीदवार, कांग्रेस ने वैश्य को दिया टिकट

जयपुर: 2019 लोकसभा चुनाव में जयपुर लोकसभा सीट पर 6 मई को मतदान होना है, किन्तु भाजपा ने इस चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार पहले घोषित करके लीड लेने का प्रयास किया है. रामचरण बोहरा पर पार्टी ने एक बार फिर विश्वास जताते हुए उन्हें उम्मीदवार बनाया है. बोहरा का टिकट इसलिए भी अहम् है क्योंकि वर्ष 1984 के बाद से अब तक हुए 9 चुनाव में जयपुर लोकसभा सीट से कोई गैर ब्राह्मण उम्मीदवार चुनाव नहीं जीता है. इस सूची में एक-एक कार्यकाल पंडित नवल किशोर शर्मा, महेश जोशी और रामचरण बोहरा का रहा हैं तो छह बार गिरधारीलाल भार्गव निर्वाचित हुए हैं. 

भाजपा का उम्मीदवार पहले घोषित होने के बाद कांग्रेस को भी इस सीट पर टिकट के लिए मंथन की खातिर काफी समय मिल गया. भाजपा से बोहरा की उम्मीदवारी के बाद कांग्रेस में दावेदारी पेश कर रहे कई नेता कमजोर पड़ गए और पार्टी ने ज्योति खंडेलवाल को उम्मीदवार बना दिया. ज्योति खंडेलवाल की उम्मीदवारी को महिला उम्मीदवार के रूप में कम और वैश्य प्रत्याशी के रूप में अधिक देखा जा रहा है. हालांकि, वे खुद इससे इंकार करती हैं. 

ज्योति खंडेलवाल वैश्य समाज से तो आती हैं,  किन्तु वे खुद को मात्र वैश्य प्रत्याशी के दायरे में नहीं रखना चाहतीं. ज्योति खंडेलवाल का कहना है कि उन्हें तो समाज के हर समुदाय से वोट लेने हैं. साथ ही वे यह भी कहती हैं कि अगर विपक्षी पार्टी इस चुनाव को जातिवादी रंग देने का प्रयास करती है तो उसे महापौर का पहला प्रत्यक्ष चुनाव भी समरण कर लेना चाहिए. 

खबरें और भी:-

भाइयों के बीच मतभेद पर बोली मीसा भारती- विपक्षी दल फैला रहे है भ्रम

अगर कांग्रेस-सपा-बसपा का विश्वास अली में, तो हमारा विश्वास बजरंगबली में - सीएम योगी

लोकसभा चुनाव: यूपी फतह करने की तैयारी में अमित शाह, रात को तीन घंटे चली मैराथन बैठक