'आसमानी किताब को बैन करो..', कन्हैयालाल की हत्या के विरोध में जंतर-मंतर पर हिन्दुओं का प्रदर्शन

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर ‘बजरंग दल’ और ‘विश्व हिन्दू परिषद (VHP)’ ने राजस्थान के उदयपुर में कन्हैया लाल की निर्मम हत्या किए जाने के विरोध में प्रदर्शन किया। इस दौरान कइ लोगों ने गिरफ्तारियाँ भी दी। पुलिस उन्हें DTC की बसों में भरकर अपने साथ ले गई। कई अन्य स्थानों पर भी हिन्दू संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया। पृथ्वीराज रोड स्थित राजस्थान हाउस के सामने भी हिन्दू कार्यकर्ता बड़ी संख्या में इकठ्ठा हुए थे।

 

इस दौरान एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि, 'वो बाहर आकर वही करते हैं, जो उनकी किताब में लिखा है। नूपुर शर्मा ने कुछ बोल भी दिया, तो वही कहा जो उनकी किताब में लिखा हुआ  है। क्या गलत बोला? इस बेचारे का क्या कसूर है? इसने केवल समर्थन में एक DP लगाई थी। एक हफ्ते पहले इन्होंने रिपोर्ट लिखवाई थी, मगर अशोक गहलोत की सरकार बैठी रही। ये सब मदरसों में सिखाया जा रहा है। कश्मीर से हिन्दुओं को भगा दिया गया।'

वहीं, एक अन्य प्रदर्शनकारी महिला ने कहा कि सरेआम सारे सबूत पब्लिक डोमेन में मौजूद हैं, ऐसे में आरोपियों का कीमा बना दिया जाना चाहिए, उसे फाँसी होनी चाहिए। महिलाओं ने कहा कि नूपुर शर्मा हमारी बहन है, हम सब उनकी DP लगाएँगे। इसके साथ ही प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने नूपुर शर्मा के बयान को भी दोहराया। उन्होंने कहा कि हिन्दुओं की हत्या करना इन्हें सिखाया जाता है। इस दौरान उन्होंने कहा कि वीडियो बना कर प्रधानमंत्री को भी धमकी दी गई है, उन्हें जरा भी खरोंच भी आ गई, तो गजब हो जाएगा। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने ‘हिंदुस्तान को तालिबान नहीं बनने देंगे’ जैसे पोस्टर्स भी ले रखे थे।

एक अन्य प्रदर्शनकारी ने कहा कि पूरा मामला साफ़ होना चाहिए और जो-जो साजिश में शामिल हैं, सबको गिरफ्तार किया जाना चाहिए। लोगों ने कहा कि नरेंद्र मोदी को धमकी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। प्रदर्शनकारियों ने मांग करते हुए कहा कि दोनों कातिलों को हमारे सुपुर्द कर दो। इस दौरान उन्होंने कहा कि, 'इस देश में आसमानी किताब को बैन किया जाना चाहिए।' साथ ही लोगों ने हिन्दुओं को बाँटने का आरोप लगाते हुए सवाल किया कि 'अवॉर्ड वापसी गैंग’ चुप क्यों हैं?'

'मदरसों में पढ़ाया जाता है सिर कलम करना ..', उदयपुर की वीभत्स घटना पर बोले मोहम्मद आरिफ खान

मोहम्मद जुबैर के लैपटॉप में छिपा है बड़ा राज़, पुलिस को देने से कर रहा इंकार

4 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया मोहम्मद ज़ुबैर, क्या 'उदयपुर हत्या' मामले में भी होगी जाँच ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -