हिमाचल प्रदेश में भाजपा को झटका, मंत्री ने दिया पद से इस्तीफा, बेटे को कांग्रेस से मिला टिकट

हिमाचल प्रदेश में भाजपा को झटका, मंत्री ने दिया पद से इस्तीफा, बेटे को कांग्रेस से मिला टिकट

शिमला: 2019 लोकसभा चुनावों के बीच हिमाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार को तगड़ा झटका लगा है. सूबे की सत्तासीन सरकार में ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने मंत्री पद से त्यागपत्र दे दिया है. सूबे के सीएम जयराम ठाकुर ने कहा है कि अनिल शर्मा ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है, हालांकि वे विधायक के रूप में काम करते रहेंगे.

इस्तीफा देने के बाद अनिल शर्मा ने प्रेस वालों से कहा है कि वे सीएम जयराम ठाकुर के बयानों से बेहद आहत हुए हैं, जिसकी वजह से उन्होंने इस्तीफा दे दिया. उन्होंने कहा है कि, 'कुछ बातों का जवाब बाद में दूंगा, मैं धीरे-धीरे अपने पत्ते खोलूंगा.' अनिल शर्मा कई दिनों से धर्मसंकट में थे. उल्लेखनीय है कि अनिल शर्मा के बेटे आश्रय शर्मा कांग्रेस से मंडी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. अपने बेटे के बारे में बताते हुए अनिल शर्मा ने कहा है कि उनमें जज्बा है, किन्तु मैं उनके लिए चुनाव प्रचार करने नहीं जाउंगा.

आपको बता दें कि इससे पहले उन्होंने कहा था कि, 'मैं मंडी लोकसभा सीट पर न तो अपने बेटे के लिए प्रचार करूंगा और न ही भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप शर्मा के लिए.' एक दिन पहले ही जयराम ठाकुर ने उनसे यह साफ करने के लिए कहा था कि क्या वह अपने पद से त्यागपत्र देकर अपने बेटे के लिए प्रचार करेंगे या फिर भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करेंगे.

खबरें और भी:-

7 बार के विधायक पर्चे में लिखना भूले अपना निर्वाचन क्षेत्र, रद्द हुआ नामांकन

बिहार: मतदान में महिलाओं ने पुरुषों को पछाड़ा, प्रथम चरण में इतने प्रतिशत हुआ मतदान

पीएम मोदी को समूचे विश्व का सलाम, यूएई के बाद अब रूस देगा सर्वोच्च सम्मान