मिस्र चुनावों के लिए हिलेरी क्लिंटन ने मांगी थी भारत से मदद

वॉशिंगटन। मिस्र मे हुस्नी मुबारक के राज के बाद वहां  2011 में एक आजाद व निष्पक्ष चुनाव प्रणाली के लिए तत्कालीन अमेरिका की विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने भारत से सहयोग की मांग की थी. उस समय इसके लिए हिलेरी ने मारिया जो की नागरिक सुरक्षा, लोकतंत्र और मानवाधिकार की प्रभारी विदेश उपमंत्री थी उन्हें कहा था की क्या भारत मिस्र में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव के लिए अपनी और से सहायता कर सकता है. यह ई-मेल उन्होंने लोकतंत्र और मानवाधिकार की प्रभारी विदेश उपमंत्री मारिया की भारत तत्कालीन विदेश सचिव निरुपमा राव की बातचीत से पूर्व भेजा था.

उस समय मारिया ने हिलेरी को कहा था की में अभी भारत से वापस आ रही हु तथा मेरी भारतीय विदेश सचिव निरूपमा राव व भारत के चुनाव आयोग से इस संबंध में सहयोग के विषय पर निष्पक्ष रूप से कई महत्वपूर्ण मुद्दो पर सकारात्मक चर्चाएं हुई है.

व राव ने इसके लिए चुनाव आयोग से भी वार्ता की है. तथा चुनावों के लिए आयोग की अमेरिकी संस्थाओ के साथ सहयोग के लिए अत्यधिक दिलचस्पी है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -