फिल्म मेकिंग में दे करियर को ऊँची उड़ान...

Dec 05 2017 04:05 PM
फिल्म मेकिंग में दे करियर को ऊँची उड़ान...

आपको अगर कहानी या स्क्रिप्ट लिखने का शौक है. या हिंदी सिनेमा जगत से प्यार है. तो आप अपनी इस कला और प्यार के बलबूते बॉलीवुड में अपना करियर भी बना सकते है. दरसल, देखा जाए तो आधुनिक युग में यह करियर के लिए बेहतर विकल्प हो सकता है. आप फिल्म मेकिंग का कोर्स कर करियर को नई दिशा भी प्रदान कर सकते है. आइए, जानते हैं क्या होता है फिल्म मेकिंग और इसके लिए कौन से कोर्स हैं उपलब्ध.

जाने क्या है फिल्म मेकिंग...

किसी भी क्षेत्र में करियर बनाने से पहले अच्छी तरह से उसके बारे में जान ले. फिल्म मेकिंग एक कला है. फिल्म मेकिंग के लिए एक बेहतर स्क्रिप्ट का होना अति आवश्यक है. फिल्म मेकिंग स्क्रिप्ट के आधार पर तैयार की जाती है. इसमें चरित्र होते हैं, एक कहानी होती है, हर कहानी की एक भाषा होती है. फिल्म में कई दृश्य होते हैं, ध्वनियों का दृश्यों के साथ मिलान होता है, स्पेशल इफेक्ट्स होते हैं और गीत-संगीत होता है. अर्थात एक फुल एंटरटेनमेंट का डोज.

फिल्म मेकिंग के लिए यह योग्यता जरूरी...

वर्तमान में किसी भी क्षेत्र में बेहतर करियर निर्माण के लिए शैक्षणिक योग्यता भी अत्यंत आवश्यक है. इसमें पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स भी उपलब्ध हैं. और ग्रेजुएशन स्तर पर भी अलग-अलग संस्थान कोर्स कराते हैं. अगर बैचलर कोर्स में दाखिला लेना चाहते हैं, तो आपका बारहवीं पास होना जरूरी है. वही पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन के लिए 40 प्रतिशत अंकों के साथ ग्रेजुएट की डिग्री होना अनिवार्य है.

यहां हैं अवसरों की भरमार...

फिल्म मेकिंग का कोर्स करने के बाद आपके पास 1 या 2 नहीं बल्कि ढेरों विकल्प मौजूद हैं. जिनमे ये विकल्प मुख्य रूप से शामिल है. स्क्रीनप्ले, निर्देशन, सिनेमेटोग्राफी, संगीत, कोरियोग्राफी, और वीडियोग्राफी इत्यादि.

यह हैं कोर्स...

- पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम इन सिनेमा
- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन डायरेक्शन
- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन सिनेमेटोग्राफी
- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन साउंड रिकार्डिंग एंड साउंड डिजाइन
- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन एडिटिंग
- पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन आर्ट डायरेक्शन एंड प्रोडक्शन डिजाइन
- सर्टिफिकेट कोर्स इन स्क्रीनप्ले राइटिंग
- डिप्लोमा इन वीडियो प्रोडक्शन
- बैचलर ऑफ फिल्म टेक्नोलॉजी आदि.

यह हैं संस्थान...

- फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एफटीआईआई), पुणे.
- सत्यजीत रे फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट, कोलकाता. 
- व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल, मुंबई.

ये भी पढ़ें-

इन बातों पर गौर करें, जल्द मिलेगी नौकरी

पार्ट टाइम जॉब में इन बातों पर ध्यान जरूर दें...

जॉब और करियर से जुडी हर ख़बर न्यूज़ ट्रैक पर सिर्फ एक क्लिक में, पढिये कैसे करे जॉब पाने के लिए तैयारी और बहुत कुछ.