सिंहस्थ-2016 में हाईटेक होगी पुलिस व्यवस्था

Jun 04 2015 03:20 PM
सिंहस्थ-2016 में हाईटेक होगी पुलिस व्यवस्था

उज्जैन : प्रदेश के डीजीपी श्री सुरेंद्रसिंह ने डीआईजी कार्यालय के सभाकक्ष में सिंहस्थ.2016 के लिये पुलिस विभाग के निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि जो भी निर्माण कार्य अभी भी चल रहे हैं और आने वाले समय में होना है, वे सभी किसी भी हालत में 31 दिसम्बर तक पूर्ण रूप से निर्मित होकर कार्यालय संचालित हो जाने चाहिये। सिंहस्थ के दौरान पुलिस सुरक्षा व्यवस्था को हाईटेक करने के लिये स्थानीय पुलिस और जिला प्रशासन आपस में एक विस्तृत कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये। जिसमें आयुक्त आईजी कलेक्टर और एसपी शामिल होंगे। बैठक में प्रारम्भ में आईजी ने सिंहस्थ में सुरक्षा बजट और पुलिस संगठन के क्या-क्या कार्य हुए और क्या-क्या कार्य होना है इसकी जानकारी दी।

इसके पश्चात् उज्जैन पुलिस अधीक्षक श्री मनोहर वर्मा ने निर्माण कार्यों और बजट की जानकारी प्रस्तुत की। निर्माण कार्यों के लिये 307.47 करोड़ रूपये स्वीकृत हुए हैं। जिसमें 69.49 करोड़ रूपये के कार्य निर्माणाधीन है, जबकि 2.54 करोड़ रूपये के स्वीकृत निर्माण कार्य प्रारम्भ होना शेष हैं। साथ ही 120.13 करोड़ रूपये के कार्यों पर पुलिस मुख्यालय भोपाल से कार्यवाही होना है। इसी तरह 15.28 करोड़ रूपये के निर्माण कार्यों की कार्यवाही जिला स्तर से होगी।उज्जैन कमिश्नरने कहा कि सीसीटीवी कैमरों को हाईटेक कर उनसे प्राप्त होने वाले तथ्यों को मोबाईल तथा अधिकारियों को जानकारी प्रदान की जायेगी जो सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से सबसे महत्वपूर्ण होंगे।

जिसमें किसी सड़क पर चल रहे यात्रियों को हो रही असुविधाए वाहनों की आवाजाही या किसी संदिग्ध व्यक्ति को देखे जाने पर उसकी जानकारी सम्बन्धित क्षेत्र के तैनात अमले को प्रदान की जायेगी। सिंहस्थ के लिये तैनात अमलों को प्रशिक्षण दिया जाना है। जो उज्जैन में ही मेला क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए उज्जैन में ही प्रशिक्षण आयोजित करने की बात कही। जबकि सम्बन्धित विभाग के शाखा अधिकारी प्रशिक्षण भोपाल में आयोजित करना चाहते हैं। डीजीपी श्री सिंह ने आपदा प्रबंधनए अग्निशमन, होमगार्ड, गुप्तवार्ता, सुरक्षा आदि पुलिस शाखाओं की समीक्षा की। आगामी समय में होने वाली बैठक के लिये भी बिन्दु निर्धारित किये गये।

जिसमें आपातकालीन ब्रिज, सेना सहायता 25 हजार कर्मचारियों का प्रशिक्षण 24 कंपनियां आदि विषय पर आगामी जुलाई के प्रथम सप्ताह में होने वाली बैठक में चर्चा शामिल है। इन बिन्दुओं पर भी चर्चा हुई, रेडियो ट्रेकिंग सिस्टम, डॉग स्क्वाड के रख.रखाव, मानव बल, डिजिटल अटेंडेंस, दूरसंचार व्यवस्था, युएवी व पीडीए सिस्टम, जीआईएस मानचित्र आदि। बैठक में पुलिस महकमे के महत्वपूर्ण अधिकारियों में एडीजी श्री सरबजीत सिंह, एडीजी हाउसिंग श्री संजय राणा, डीआईजी राकेश गुप्ताए एडीजी अग्निशमन श्री विजय कुमार, एडीजी कानून व्यवस्था एवं सुरक्षा श्री मकरंद देउस्कर, एडीजी आपदा प्रबंधन श्री सुरेन्द्र पाण्डे, एडीजी दूरसंचार श्री अन्वेष मंगलम्, एडीजी श्री पवन जैन, मेला अधिकारी श्री अविनाश लवानिया उपस्थित रहे।