काफी घातक है हाई कोलेस्ट्रॉल

कोलेस्ट्रॉल का नाम सुनते ही घबराहट होना लाजमी है। कोलेस्ट्रॉल बुरा ही नहीं अच्छा भी होता है। कोलेस्ट्रॉल एक फैट है जो सीमित मात्रा में जिन्दगी और सेहत के लिए जरूरी है। कोलेस्ट्रॉल मुलायम चिपचिपा पदार्थ होता है जो रक्त शिराओं व कोशिकाओं में पाया जाता है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल की उपस्थिति एक सामान्य बात है। यह शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। डायबटीज और किडनी के रोगों से पीड़ित लोगों के लिए उच्च रक्त कोलेस्ट्रॉल बहुत घातक सिद्ध हो सकता है। हमें बस अपने कोलेस्ट्रॉल को सही लेवल पर रखना है और उसके लिए हेल्थी लाइफस्टाइल और डाइट कण्ट्रोल काफी जरूरी है.

शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को नार्मल बनाये रखने में हमारा भोजन बहुत अहम भूमिका निभाता है। इसके लिए सबसे जरूरी है डाइट में चर्बी बढ़ाने वाली चीजों को कम करना जैसे मक्खन, घी आदि का सेवन कम करें। इसकी जगह ऑलिव और सनफ्लॉवर ऑइल का प्रयोग करें। मछली और सी फ़ूड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। रेशेदार और स्टार्चयुक्त फ़ूड प्रोडक्ट्स का सेवन करें। फलों और सब्जियों का अधिक सेवन करें। आलू, अनाज, दालें आदि अधिक खाएं।

एंटी आक्सीडेंट फ़ूड प्रोडक्ट्स का सेवन अधिक करें जैसे विटामिन सी, विटामिन के, जिंक, सेलेनियम युक्त पदार्थ। मछली का तेल भी बुरे कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में बहुत सहायक होता है। फोलिक एसिड के कैप्सूल भी लाभदायक होते हैं। इसके अलावा कुछ फल जैसे स्ट्राबेरी, लाल अंगूर, माल्टा, नींबू, ब्लूबेरीज, एवोकीडो, खूबानी, सेब, कीवी, अनार आदि खाने से कोलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण के साथ इसका स्तर भी कम होता है। अगर भोजन में अनाज व ओट मील का सेवन किया जाए तो स्वास्थ्य पर लाभकारी प्रभाव पड़ता है। डेली एक्सरसाइज़ करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा में बढ़ोतरी नहीं होती। इसके अलावा, योगासन भी काफी फायदे पहुंचाता है।

चरम सुख की प्राप्ति के लिए इस समय करे सेक्स

ये फूड्स दिलाएंगे आपको शीघ्रपतन की समस्या से निजात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -