इस कारण आती है हिचकी, ऐसे पाएं इस समस्या से निजात

इस कारण आती है हिचकी, ऐसे पाएं इस समस्या से निजात

हम आपको बता दें हिचकी के पीछे वैज्ञानिक कारण होता है हमारे शरीर में डायफ्राम का सिकुड़ना। छाती को पेट से अलग करने वाली मांसपेशी यानी कि डायफ्रॉम सांस लेने की प्रक्रिया में अहम रोल निभाती है। ऐसे में इसका सिकुड़ना हिचकी का प्रमुख कारण होता है। इसके अलावा भी हिचकी आने के कई कारण होते हैं। जैसे- अधिक मात्रा में तीखा खाना खा लेना, ज्यादा शराब पी लेना या फिर जल्दी-जल्दी भोजन निगलना। कभी- कभी हिचकी हमें काफी परेशान करती है। 

चाहती हैं नार्मल आपकी डिलीवरी तो प्रेगनेंसी के दौरान करें ये काम

ऐसे कर सकते है समस्या को दूर 

इस समस्या से बचने के लिए दो या तीन काली मिर्च के दाने लेकर उसमें थोड़ी मिश्री मिलाएं। अब इसा चबाकर इसका रस चूसते रहें। यह उपया हिचकी के सबसे कारगर उपायों में से एक है। वही एक चम्मच चीनी हिचकी को रोकने का अचूक उपाय है। जब भी कभी आपको हिचकी आती है, आप इस उपाय को आजमा सकते हैं। हिचकी आने पर आप पानी में थोड़ा सा नमक मिलाकर एक या दो घूंट पी लें। इससे हिचकी से तुरंत आराम मिलता है।

बड़ी बीमारी को दूर करती है व्हिस्की, बस ऐसे करें सेवन

इस तरह पा सकते है समस्या से छुटकारा 

इसी के साथ सिरके का खट्टा स्वाद हिचकी को रोकने में कारगर होता है। जब भी कभी हिचकी आए, एक चम्मच सिरके का सेवन करें, तुरंत राहत मिलेगा। वही हिचकी रोकने का एक सरल तरीका यह भी होता है, कि अपनी सांस को लंबा खींचकर उसे कुछ सेकंड के लिए रोककर रखें। ऐसे में फेफड़ों में जमा कॉर्बन डाइ ऑक्साइड को जब डायाफ्रॉम बाहर निकालेगा तो हिचकी आना बंद हो जाएगा।

आवाज़ को बनाना चाहते हैं मधुर तो इन बातों पर दें ध्यान

ये हैं दुनियाभर के अजीब और दिलचस्प फैक्ट्स, अमेरिका का है काफी इंटरेस्टिंग

World Sleep Day : जानिए क्या होते हैं जमीन पर सोने के फायदे