खिलाड़ियों पर मेहरबान हुए हेमंत सोरेन, पदक विजेता के लिए करेंगे ये काम

रांची: झारखंड के खिलाड़ियों के लिए बहुत ही बड़ी खबर है. सीधी नियुक्ति के लिए एक लंबे वक़्त से आंदोलन कर रहे मेडल विजेता खिलाड़ियों को नियुक्ति पत्र जारी किए जाने वाले है. इन खिलाड़ियों में बिमला मुंडा का नाम भी शामिल है, जो परिवार की तंगी की मजबूरी में हंडियां बेचती थी. सरिता तिर्की दिहाड़ी मजदूरी करती थी. अंतर्राष्ट्रीय मेडल विजेता खिलाड़ियों की मजबूरियों को लोकल खबर ने प्रमुखता से दिखाई गई थी. जिसके उपरांत राज्य के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने बिमला मुंडा सहित अन्‍य खिलाड़ियों का नाम लेते हुए 30 दिनों के अंदर नियुक्ति पत्र देने की घोषणा की.

खेल सचिव पूजा सिंघल ने कहा कि सीधी नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी है. 17 मार्च को खिलाड़ियों को सीधी नियुक्ति के अंतर्गत नौकरी का एलान कर दिया है. 36 खिलाड़ियों को बुधवार को नियुक्ति पत्र भी जारी किया जा चुका है. एक खिलाड़ी को पूर्व में ही नौकरी दी जा चुकी है.

गृह विभाग में सेवा देंगे खिलाड़ी: जंहा इस बात का पता चला है कि  अधिकांश खिलाड़ियों को राज्य गवर्नमेंट के स्तर से गृह विभाग में नौकरी दी जा रही है. तकरीबन सभी खिलाड़ी बतौर कांस्टेबल पुलिस मंत्रालय में योगदान देंगे. बहुत कम खिलाड़ी ऐसे हैं, जिन्हें शिक्षा मंत्रालय, खेल या अन्य विभागों में ही नौकरी दी जा सकती है. जिसके अतिरिक्त 3 खिलाड़ियों को पुलिस विभाग में या अन्यत्र ग्रेड-2 की नौकरी दिये जाने का कोशिश है. इनके लिए अभी प्रक्रिया बाकी है.हालांकि, खेल मंत्रालय ने 40 खिलाड़ियों को सीधी नियुक्ति के अंतर्गत फाइनल कर रखा था. इसमें से एक बिरसी मुंडू को रांची में DSO कार्यालय में नौकरी दी जा चुकी है. बाकी 39 खिलाड़ियों में 3 को नियमानुसार उनकी योग्यता को देखते हुए क्लास-2 में नौकरी दी जानी है. इसमें रितेश आनंद (एथलेटिक्स), मधुमिता कुमारी और भाग्यमती चानू (दोनों तीरंदाज) शामिल हैं.

कोरोना ने 84% अति धनी भारतीयों को किया प्रभावित: सर्वेक्षण

एक के बाद एक हो रही मौतें, कई बार कारण होते हैं एक

परिणीति चोपड़ा ने अर्जुन कपूर को जड़ा जोरदार थप्पड़, जानिए किस बात से खफा हुई अभिनेत्री

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -