अस्पताल का लाइसेंस होगा रद्द

By Lav Gadkari
Dec 03 2017 03:14 PM
अस्पताल का लाइसेंस होगा रद्द

नईदिल्ली। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शालीमार बाग स्थित मैक्स चिकित्सालय में एक जीवित बच्चे को मृत बताए जाने के मामले में जाॅंच करने की बात कही है। इस बच्चे को पोलिथीन बैग में पैककर दिया गया था। इस बच्चे के साथ एक बच्ची भी थी मगर उसे बचाया नहीं जा सका था। परिवार जब अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहा था, उसी दौरान बच्चे के जीवित होने की जानकारी परिजन को मिली थी। अब इस मामले में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि यदि चिकित्सालय में इस मामले में अनियमितता पाई गई तो फिर चिकित्सालय का लाइसेंस रद्द किया जा सकता है।

सरकार ने इस मामले में आपराधिक लापरवाही की जांच का आदेश दिया था। इस मामले में चिकित्सकों ने जिस बच्चे को मृत घोषित कर दिया था वह जीवित पाया गया। कहा गया कि यदि चिकित्सालय को मेडिकल लापरवाही का दोषी पाया जाता है तो फिर इसका लाइसेंस रद्द किया जाएगा। इस मामले में राज्य के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

उन्होंने कहा है कि इस मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि 30 नवंबर को मैक्स चिकित्सालय में वर्षा नामक एक प्रसूता ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया था। इसी दौरान एक बच्ची मृत घोषित कर दी गई थी तो दूसरी ओर चिकित्सकों ने महिला के बच्चे को भी मृत बता दिया था। मगर बाद में परिजन को बच्चे के जिंदा होने की जानकारी मिली थी। इस बच्चे को चिकित्सालय प्रबंधन द्वारा पोलिथीन बैग में पैक कर परिजन को दे दिया गया था। अब परिजन के आरोपों के बाद चिकित्सालय के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

मैक्स अस्पताल: जिन्दा बच्चे को पार्सल में पैक किया

इंदौर में 25 माह में 28 दफा ग्रीन कॉरिडोर

पशुपालन विभाग के आला अफसर की मौत