इस राज्य में 9 से 11 नवंबर के दौरान हो सकती है भारी बारिश, मौसम विभाग ने दी चेतावनी

चेन्नई: तमिलनाडु के तमाम भागों में भारी वर्षा जारी रहने से आम जनजीवन प्रभावित हुआ है। वर्षा से जुड़ी घटनाओं में पांच व्यक्तियों की मौत हो गई तथा 60 से अधिक घरों को हानि पहुंची है। वाटर लॉंगिंग के कारण व्यक्तियों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। सड़कों पर पानी भरने के साथ ट्रैफिक की गति पर भी ब्रेक लग गया है। पानी भरने के चलते गाड़ी चलाने वालों को बहुत समस्याओं से उलझना पड़ रहा है।

वही सर्वाधिक वर्षा की वजह से कई जलाशयों में पानी भर गया तथा सड़कें उफनती नदियों की भांति नजर आने लगीं। प्रदेश के कुछ भागों में निचले क्षेत्रों में रह रहे व्यक्तियों के लिए अलर्ट भी जारी किया गया है। तमिलनाडु में वर्तमान मौसम के हालात पर IMD के डीडीजीएम डॉ. एस. बालचंद्रन ने बताया कि आज कुछ स्थानों पर हल्की से भारी वर्षा की संभावना है। जबकि बुधवार को भारी से बहुत भारी वर्षा के आसार दिखाई दे रहे है।

साथ ही उन्होंने बताया, ‘मछुआरों को 9 से 11 नवंबर तक दक्षिण आंध्र, तमिलनाडु तट तथा निकटवर्ती श्रीलंका तट की तरफ नहीं जाने का सुझाव दिया गया है। बालचंद्रन ने बताया कि पुदुक्कोट्टई, रामनाथपुरम, कराईकल में आज के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। जबकि कुड्डालोर, विलुप्पुरम, शिवगंगा, रामनाथपुरम तथा कराईकल में बुधवार के लिए रेड अलर्ट जारी है। उन्होंने कहा कि 11 दिनांक के लिए तिरुवल्लूर, चेन्नई, कांचीपुरम, चेंगलपट्टू, विलुप्पुरम, तिरुवन्नामलाई में रेड अलर्ट जारी है।

LAC पर चीन ने बसाया बड़ा गांव, जानिए पूरा मामला

किसानों का झलका दर्द, बोले- पराली जलाना हमारी मजबूरी, सरकार कोई सब्सिडी नहीं दे रही और नाही...

'हमारे फेफड़ों में भी जाता है धुआं.. लेकिन पराली जलाना मज़बूरी..', किसानों ने बयां किया दर्द

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -