जागरूकता से ही बचा जा सकता है हृदय रोग से - डॉ. मोदी

इंदौर। आज की भागमभाग की महानगरीय जीवन शैली में हर व्यक्ति स्ट्रेस में रहता है। इसके साथ ही अनियमित खान-पान और दिनचर्या भी आज हृदय रोग जैसी गंभीर बीमारियों को बढ़ा रही है। विश्व के अन्य देशों की तुलना में आज भारत में हृदय रोग से पीडि़तों की संख्या सबसे ज्यादा है। इसके लिए हर व्यक्ति को जरूरी है कि वह इस रोग के प्रति जागरूक रहकर ही बच सकता है। यह बात ख्यात कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. नितिन मोदी ने कही। 
 
वल्र्ड हार्ट डे (29 सितंबर) के पूर्व इंदौर प्रेस क्लब द्वारा केयर सीएचएल हॉस्पिटल के सहयोग से आज आयोजित हृदय रोग से संबंधित प्रशिक्षण शिविर में डॉ. मोदी ने प्रजेंटेशन के माध्यम से हृदय रोग के साथ ही ब्लड प्रेशर, शुगर आदि रोगों की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 40 वर्ष की आयु के बाद हर व्यक्ति को अपनी नियमित जांच करवाते रहना चाहिए। इसके साथ ही ज्यादा फेटयुक्त और मसालेदार भोजन को अवाइड करना चाहिए। यही भोजन हृदय के लिए सबसे ज्यादा घातक होता है। उन्होंने कहा कि कभी-कभी ईसीजी, टीएमटी टेस्ट में भी बीमारी पकड़ नहीं आती है और जांचे नार्मल आती हैं, इसका मतलब यह नहीं है कि आप पूरी तरह स्वस्थ हैं। अगर चलते या काम करते समय आपको किसी भी तरह की घबराहट, पसीना आना, दर्द होना आदि लक्षण महसूस होते हैं, तो तत्काल अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। यह हृदय रोग के लक्षण हो सकते हैं। 
 
डायटिशियन श्रीमती रेणु जैन ने भी प्रजेंटेशन के माध्यम से आदर्श डाइट क्या होना चाहिए इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भोजन में कैलोरी के साथ प्रोटीन और फाइबरयुक्त पदार्थ उचित मात्रा में लेना चाहिए। दिनभर का डाइट चार्ट बनाकर उसके अनुरूप ही अपना भोजन लें। जरूरत से ज्यादा कैलोरी भी शरीर के नुकसानदायक हो सकती है, यही अतिरिक्त कैलोरी फैट का रूप लेकर हृदय को नुकसान पहुंचाती है। डॉ. मोदी और श्रीमती जैन ने उपस्थित मीडिया के साथियों के प्रश्नों के उत्तर देकर उनकी जिज्ञासा का समाधान भी किया। 
 
शिविर डॉ. सुनील शर्मा, डॉ. राजेश हरियाले, डॉ. नवदीप श्रीवास्तव और फीजियोथेरेपिस्ट डॉ. जितेन्द्र शर्मा ने भी मार्गदर्शन दिया। अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारी श्री मनीष गोखले, पेथोलॉजिस्ट नियात खान, नर्सिंग स्टॉफ में शशि सिंह एवं सूरज यादव ने अपनी सेवाएं दीं। लगभग 80 लोगों ने अपनी लिपिड प्रोफाइल जांच करवाई। शिविर का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन से हुआ। प्रेस क्लब महासचिव हेमन्त शर्मा, कार्यकारिणी सदस्य राहुल वावीकर, अभय तिवारी, राजेंद्र कोपरगांवकर, चंदू जैन, अर्पण जैन ने सभी चिकित्सकों का स्वागत किया। प्रेस क्लब अध्यक्ष अरविंद तिवारी ने डॉ. मोदी सहित उनकी पूरी टीम का शिविर आयोजित करने और हृदय रोग से बचाव की जानकारी देकर मीडिया के साथियों को जागरूक करने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।

परिवार को पब में एंट्री नहीं दी तो की फायरिंग, अब आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

मुख्यमंत्री चौहान ने किया पौध-रोपण, ब्लाइंड क्रिकेट खिलाड़ी रहे मौजूद

जिला स्तरीय नवांकुर प्रशिक्षण कार्यक्रम समपन्‍न

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -