कोविड बूस्टर वैक्सीन की वजह से बढ़ रहे हैं हार्ट अटैक के केस? जानिए क्या है सच

कोविड वैक्सीन की बूस्टर डोज सभी को लगवाने के लिए कहा जा रहा है। वहीं खबरें हैं कि इसकी वजह से हार्ट अटैक के केस बढ़ रहे हैं। हालाँकि एक्सपर्ट्स ने इन अफवाहों को खारिज कर दिया है। जी दरअसल विशेषज्ञों का कहना है कि हार्ट की बीमारियों और बूस्टर डोज के बीच कोई लिंक नहीं है। इसी के साथ एक्सपर्ट्स ने कोविड वैक्सीन को हार्ट के लिए नुकसानदायक नहीं बताया है। जी दरअसल डॉक्टरों का कहना है कि वैक्सीन से हार्ट अटैक या दिल की बीमारियों में इजाफा होने का अभी तक कोई मेडिकल प्रमाण नहीं आया है।

रोज करना चाहिए फिटकरी के पानी का कुल्ला, होंगे चौकाने वाले फायदे

आप सभी को बता दें कि कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट के डॉक्टर का कहना है कि कोविड के बाद दिल की धड़कन के अनियमित होने के केस देखे जा रहे हैं, लेकिन ऐसा नहीं कहा जा सकता कि ये टीके की वजह से हुआ है। जी हाँ और आगे उन्होंने कहा- 'ऐसा इसलिए क्योंकि कोविड वैक्सीनेशन से पहले भी हार्ट की ये बीमारियां हो रही थी। वैक्सीन से हार्ट की बीमारी होने का कोई प्रमाण नहीं है, लेकिन ये जरूर है कि कोविड वायरस की वजह सेहार्ट से संबंधित बीमारियां हो सकती है।'

आपको जल्दी बूढ़ा बना देते हैं ये फूड्स, आज से छोड़ दे खाना

आपको बता दें कि ऐसे मामले भी देखे जा रहे हैं जहां पहले से लोगों को हार्ट की परेशानी थी और कोविड से संक्रमित होने के बाद ये समस्या और भी बढ़ गई है। जी हाँ और ऐसे लोगों को हार्ट अटैक, हार्ट फेल और दिल की धड़कन के अनियमित होने की परेशानी हो सकती है। इसके अलावा जिन लोगों को पहले दिल की बीमारी नहीं थी, लेकिन डायबिटीज या बीपी की समस्या थी, कोविड होने के बाद उन्हें भी हार्ट डिजीज होने की आशंका है। इसके अलावा अगर किसी को हार्ट की बीमारी नहीं है, लेकिन वो व्यक्ति कोविड से गंभीर रूप से संक्रमित हुआ तो दिल की बीमारी होने का खतरा है।

गंदगी से परेशान है रहवासी, कई बार कर चुके है शिकायत

भारत जोड़ो यात्रा: कर्नाटक में राहुल गांधी के आने से पहले फटे पोस्टर

मंत्री विश्वास सारंग ने इस अंदाज में दिग्विजय सिंह पर कसा तंज

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -