स्वस्थ जीवन शैली करता है आपके कोलेस्ट्रॉल को बेहतर बनाने में मदद

स्वस्थ जीवन शैली के हस्तक्षेपों के संयोजन से विभिन्न लिपोप्रोटीन और संबद्ध कोलेस्ट्रॉल पर लाभकारी प्रभाव के माध्यम से दिल की बीमारी कम हो जाती है, एक नए अध्ययन से पता चला। जर्नल ईलाइफ में प्रकाशित अध्ययन से पता चला है कि कोलेस्ट्रॉल कम करने वाली दवाओं और जीवनशैली के हस्तक्षेप से दिल की सेहत को सबसे अधिक लाभ मिल सकता है। अमेरिका में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के प्रमुख लेखक जियाउई सी ने कहा, "अब तक, किसी भी अध्ययन ने कोलेस्ट्रॉल कम करने वाली दवाओं के लिपिड-कम करने वाले प्रभावों और स्वस्थ जीवन शैली के हस्तक्षेप की तुलना नहीं की है।" 

वही कोलेस्ट्रॉल कम करने वाली दवाएं जैसे स्टैटिन, कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एलडीएल) कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करके हृदय के जोखिमों को कम करने में मदद करती हैं, तथाकथित "खराब" कोलेस्ट्रॉल। नियमित रूप से व्यायाम करने, स्वस्थ आहार लेने, शराब का सेवन कम करने और स्वस्थ वजन बनाए रखने सहित स्वस्थ जीवन शैली के हस्तक्षेपों को एलडीएल कम करने के साथ-साथ "स्वस्थ" उच्च घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एचडीएल) कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने के लिए भी दिखाया गया है। अध्ययन के लिए, टीम ने 4,681 प्रतिभागियों से रक्त के नमूनों में 61 विभिन्न लिपिड मार्करों को मापने के लिए एक तकनीक का उपयोग किया, जिसमें स्ट्रोक, कोरोनरी हृदय रोग और स्वस्थ व्यक्तियों के मामले शामिल थे। 

साथ ही उन्होंने प्रतिभागियों के रक्त में लिपिड मार्करों का अध्ययन किया, जिनकी जीवनशैली की कई आदतें थीं और उनकी तुलना कम स्वस्थ आदतों वाले प्रतिभागियों से की गई थी। उन्हें एक स्वस्थ जीवन शैली से जुड़े 50 लिपिड मार्कर मिले। जो स्वस्थ जीवन शैली से हृदय रोग की कमी के मार्ग में सांख्यिकीय रूप से महत्वपूर्ण मध्यस्थता प्रभाव दिखाते थे। साथ में, स्वस्थ जीवन शैली प्रथाओं के साथ जुड़े लिपिड परिवर्तनों के संयुक्त लाभकारी प्रभाव हृदय रोग के 14 प्रतिशत कम जोखिम से जुड़े थे।

कोरोनावायरस वैक्सीन की खरीद में सूचना हमलों से आ रही है बाधा: यूक्रेनी स्वास्थ्य मंत्री

जेल में अचानक बिगड़ी 'आसाराम' की तबियत, इमरजेंसी वार्ड में किया गया भर्ती

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा- मार्च से दिया जाएगा 50 वर्ष से अधिक के लोगों को टीका

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -