डेंगू बुखार में जरूर खाए यह चीजें, बढ़ेंगी प्लेटलेट्स

हर साल बारिश का मौसम आता है तो मच्छर अपने असली रंग दिखाना शुरू कर देते हैं और लोगों में डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया फैलने लगता है। इसी के चलते लोगों के बीच मच्छरों को आतंक का डर दिखने लगता है। वहीँ इस मौसम में मच्छरों से होने वाला बुखार शरीर को पूरी तरह से कमजोर बना देता है। सबसे खास बात है तो यह है कि डेंगू के मच्छर साफ पानी में पनपते हैं और इनके काटने से बुखार, बदन दर्द आदि की समस्या होता है। केवल यही नहीं बल्कि इनके काटने से ब्लड में मौजूद प्लेटलेट्स काफी तेजी से गिरने लगते हैं। इसी के चलते अगर डेंगू के मरीज सही डाइट न लें तो बीमारी जानलेवा हो सकती है। इस दौरान सही मात्रा में पौष्टिक आहार लेने से इस बीमारी को ठीक कर सकते हैं। अब हम आपको बताते हैं डेंगू के बुखार में किन चीजों का सेवन करन से प्लेटलेट्स बढ़ने लगते हैं।

पपीता का जूस- सबसे पहले आप पपीते के पत्तों को अच्छी तरह से धो लें और उसके बाद इन्हें बारीक तरीके से काट लें। अब मध्यम आकार का पपीता लेकर बारीक तरीके से काट लें और इसमें नींबू का रस और आधा कप संतरा मिलाएं। अब सभी चीजों में थोड़ा सा पानी डालकर जूस तैयार कर लें और फ्रेश ही पी ले।

नारियल पानी- नारियल पानी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसे पीने से शरीर हाइड्रेटेड रहता है। जी दरअसल इसमें कई तरह के पोषक तत्व होते हैं। वहीँ डेंगू के बुखार में कुछ खाने -पीने का मन नहीं करता है तो नारियल पानी आपको लाभ देगा।

अनार का जूस- शरीर में ब्लड को बढ़ाने के लिए अनार के जूस का सेवन करना चाहिए। जी दरअसल अनार में प्राकृतिक तौर पर मिनरल्स होते है जो शरीर को एनर्जी देते हैं।

डेंगू और मलेरिया के मच्छर को कैसे रोके-


1. कचरे को सही तरीके से फेंके। आर्टिफिशयल पोट या बर्तन में पानी नहीं जमने दे।

2. अपने बगीचे या छत के सभी कंटेनरों या खाली बर्तनों को ढक दें।

3. घर से बाहर निकलते समय फुल स्लीवस के कपड़े पहनें।

4. मच्छरों से बचने के लिए स्प्रे, क्रीम्स और नेट का साहरा लें।

5. दरवाजे और खिड़कियों को शाम के समय में बंद कर दें।

6. बेवजह घूमने से बचें।

दिल्ली-NCR में अचानक बदला मौसम, यूपी-हरियाणा में भी अच्छी बारिश के आसार

फिर बढ़ी अनिल देशमुख की मुसीबतें, ED ने तेज की कार्रवाई

छत्तीसगढ़: दोगुने दाम में खरीदी गई नगर पालिका में 7 हजार की चेयर, भड़के पार्षद ने की कार्रवाई की मांग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -