बॉडी बिल्डिंग के लिए आप भी अपनाते हैं प्रोटीन पाउडर, तो जान लें नुकसान

जो लोग फिटनेस फ्रीक होते हैं, वो अक्सर प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल करते हैं. जिम जाते हैं तो प्रोटीन जैसी चीज़ें लेना चाहते हैं जिससे उनकी बॉडी बन जाए. दरअसल, शरीर में प्रोटीन की आवश्यकता को पूरा करने के लिए लोग प्रोटीन पाउडर का यूज करते हैं. प्रोटीन पाउडर दूध, मक्खन, केसिन और सोया से बने सूखे पाउडर होते हैं. लेकिन आपको बता दें इससे कई नुकसान भी होते हैं. बॉडी बिल्डर और वर्कआउट करने वाले इसका सेवन अधिक करते हैं. इसमें ग्लोबुलर प्रोटीन होते हैं जो तरल पदार्थ से बने होते हैं. ये तरल पदार्थ बायोडिग्रेशन के प्रोडक्ट से तैयार किए जाते हैं. यही आपको नुकसान भी पहुंचता है. 

मुंहासों का आना
प्रोटीन पाउडर में कई प्रकार के हार्मोन और बायोएक्टिव पेप्टाइड्स होते हैं, जो सीबम में वृद्धि करते हैं. सीबम की वृद्धि त्वचा पर मुंहासे की समस्या का कारण बनती है.

पोषक तत्वों की कमी
शरीर में पोषक तत्वों की कमी प्रोटीन पाउडर उपभोग करके हो सकता है. यदि आप अंडे, दूध और मांस जैसे प्राकृतिक प्रोटीन खाद्य पदार्थों का उपभोग करते हैं तो ऐसी समस्या का कम होती है. प्रोटीन पाउडर अधिक प्रोटीन प्रदान करता है जो घनत्व होता है. इसकी खपत पोषक तत्वों की कमी का कारण बन सकता है.

इन्टेस्टाइनल माइक्रोबायोटा
वे प्रोटीन लैक्टोफेरिन जैसे कुछ यौगिकों का स्रोत होता है. ये यौगिक अडल्ट गट फ्लोरा के जोखिम में वृद्धि करता है. इससे पेट से जुड़ी समस्या हो सकती है और गैस या अपच की समस्याएं भी हो सकती हैं.

इन बीमारियों को कोसों दूर रखता है 'खजूर'

इन उपायों को आजमाने के बाद नहीं आएगी मुंह से प्याज की बदबू

शरीर के इस हिस्से में तिल इस बीमारी का है संकेत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -