मंदिर की घंटी की आवाज़ आपके दिमाग को पहुंचाती है सुकून, जानें कैसे

मंदिर की घंटी की आवाज़ आपके दिमाग को पहुंचाती है सुकून, जानें कैसे

मंदिर में जाते ही हर कोई पहले घंटी बजता है. लेकिन क्या आपको बता दें इसके सेहत से जुड़े कई फायदे हैं. मंदिर में घंटी लगाने का एक अलग ही महत्व होता है. कई लोगों का ये विश्वास भी है कि घंटी की आवाज़ ईश्वर तक अपनी प्रार्थनाएं पहुंचाने का जरिया भी हैं. लेकिन हम आपको इसके पीछे का वैज्ञानिक कारण बता रहे हैं. आर्ट ऑफ लिविंग के मेडिटेशन टीचर स्वामी मधुसूदन ने बताया कि मंदिर में घंटी बजाने का क्या फायदा होता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें, मंदिर की घंटियां कैडमियम, जिंक, निकेल, क्रोमियम और मैग्नीशियम से बनती हैं जिसकी आवाज़ दूर तक जाती है. ये आपके मस्तिष्क के दाएं और बाएं हिस्से को संतुलित करता है. ऐसे में जैसे ही आप घंटी बजाते हैं एक तेज आवाज पैदा होती है, ये आवाज़ 10 सेकेंड तक गूंजती है. इस गूंज की अवधि आपके शरीर के सभी 7 हीलिंग सेंटर को एक्टीवेट करने के लिए काफी अच्छी होती है. यानि ये आवाज़ आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होती है. 

वैज्ञानिक कहते हैं कि ये आवाज़ आपने मस्तिष्क के विचारों में स्पष्टता लाती है जिस वजह से आप ऐसी स्थिति में पहुंच जाते हैं जब आपको पहले से ज्यादा चीजें समझ आने लगती हैं. ये आवाज आपकी एकाग्रता बढ़ाती है, आपको अलर्ट या सचेत रखती है. इससे आपके दिमाग के नकारात्मक विचार भी दूर होते हैं. तो अब तक आप इसके बारे में जान ही गए होंगे कि मंदिर में बज रही घंटि की आवाज़ आपके लिए कितनी लाभकारी है. इसके अलावा इसकी आवाज आपको मानसिक शांति भी देती है.

सामान्य कॉफ़ी की बजाये पिएं डीकैफीनेटेड कॉफ़ी, कम होगा नुकसान

नींद में आती है अधिक नींद तो हो सकता है अल्ज़ाइमर का खतरा..