घर बैठे ATM से निकाल पाएंगे कैश, जानें कैसे

कोरोना के प्रकोप के बीच भारत की दिग्गज बैंक HDFC Bank ने देशभर में मोबाइल एटीएम की व्यवस्था की है. इस सुविधा से अब ग्राहक अपने दरवाजे पर खड़े एटीएम वैन से कैश निकालने में सक्षम होंगे. इसके अलावा बैंक ने कर्ज पर ब्याज 0.20 फीसद घटा दी है. कर्ज की लागत घटने से बैंक ने ब्याज दर में कटौती की है. बैंक की वेबसाइट के अनुसार मंगलवार से सभी अवधि के कर्ज के लिए कोष की सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (MCLR) की समीक्षा की गई है.

इस वजह से वैश्विक अर्थव्यवस्था को हो सकता है 5 ट्रिलियन डॉलर का नुकसान

माना जा रहा है कि इस बदलाव के बाद एक दिन के लिए MCLR 7.60 फीसद जबकि एक साल के कर्ज के लिए 7.95 फीसद होगी. ज्यादातर कर्ज एक साल की MCLR से संबद्ध होते हैं. तीन साल के कर्ज पर MCLR 8.15 फीसद होगी. नई दरें सात अप्रैल से प्रभावी हो गई हैं.

क्रूड आयल को मिली संजीवनी, उत्पादन कटौती समझौते से कीमतों में आई तेजी

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि SBI ने भी MCLR आधारित कर्ज दरों में कटौती की घोषणा की थी. नई दरें 10 अप्रैल से लागू होंगी. बैंक ने MCLR आधारित ब्याज दर में 0.35% कटौती करने की घोषणा की. साथ ही, बैंक ने बचत खाता जमा पर भी ब्याज दर को 0.25 फीसद घटाकर 2.75 फीसद कर दिया है. नई दरें 10 अप्रैल से लागू होंगी. वही, कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए लोगों को कैश निकालने के लिए अपने घर से दूर न जाना पड़े, इसके लिए HDFC बैंक ने यह सुविधा है शुरू की है. मोबाइल एटीएम किसी खास स्थान पर किसी तय अवधि के लिए उपलब्ध होगी. इस अवधि के दौरान मोबाइल एटीएम सुबह 10 बजे से लेकर शाम पांच बजे के बीच 3-5 जगहों पर रुकेगी. इसका ट्रायल हो चुका है, जल्द ही इसे विस्तार दिया जाएगा.

जब तक कोरोना पर नियंत्रण नहीं, फ्लाइट्स का संचालन संभव नहीं - हरदीप सिंह पूरी

कोरोना की मार से 70-80 के दशक में पहुंच जाएगा भारत, इकॉनमी को लगेगा बड़ा झटका

MSME इंडस्ट्री को बचाने के लिए एक लाख करोड़ का पैकेज ! जल्द हो सकता है ऐलान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -