मोदी का बयान महत्वहीन, राहुल को सीखने की जरूरत : देवेगौड़ा

आगामी वर्ष में कर्नाटक, राजस्थान और मध्य प्रदेश समेत 2019 लोकसभा चुनाव होने हैं. इसे देखते हुए देश की दिग्गज राजनीतिक पार्टी कांग्रेस और भाजपा एक दूसरे पर जमकर आग उगल रही हैं. हाल ही में पीएम मोदी ने राहुल गांधी को लेकर एक बड़ा बयान दिया था. पीएम ने राहुल पर पूर्व पीएम एच डी देवगौड़ा के अपमान का आरोप लगाया था. आरोप लगाते हुए पीएम ने कहा कि राजनीति में मतभेद होते हैं तथा राजनीतिक मर्यादाएं भी होती हैं. उनका उल्लंघन नहीं किया जाना चाहिए लेकिन गांधी लगातार ऐसा कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि वह विपक्षी दलों के नेताओं के साथ मर्यादा का पालन करते हैं. 

बता दे कि पीएम मोदी उड्डुपी में चुनाव प्रचार के दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी पर जमकर हमला बोल रहे थे. उन्होंने आगे कहा कि पूर्व पीएम देवे गौड़ा जब उनसे मिलने आते है, तो वे उन्हें लेने आते हैं. वहीं जाते समय उन्हें इसी तरह से कार में बिठाकर आते हैं. जबकि राहुल ऐसा नहीं करते है. इस बयान के जवाब में जब देवेगौड़ा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के बयान को वह ज्यादा महत्व नहीं देते है. 

गौरतलब है कि पूर्व पीएम एच डी देवगौड़ा जनता दल (सेक्यूलर) पार्टी से सम्बन्ध रखते है. जब पीएम मोदी के बयान के बाद देवेगौड़ा से भाजपा से गठबंधन करने की बात की गई तो उन्होंने सवाल के जवाब से इंकार कर दिया. वहीं राहुल गांधी के बारे में देवेगौड़ा ने कहा कि राहुल गांधी को अभी राजनीती में बहुत कुछ सीखने की जरूरत हैं. 

पंजाब की राजनीतिक हस्तियों ने दी विनोद खन्ना को श्रद्धांजलि...

मोदी करवाते हैं संसद में हंगामा : कमलनाथ

पीएम मोदी 15 मिनट बिना झूठ बोले कुछ बोल कर दिखाएं- कांग्रेस

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -