टीकाकरण कोरोनावायरस के ताबूत में आखिरी कील साबित होगा: हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन

By iti mishra
Jan 21 2021 01:27 PM
टीकाकरण कोरोनावायरस के ताबूत में आखिरी कील साबित होगा: हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन

नई दिल्ली: इस समय देश में चल रहे कोरोना वैक्सीनेशन अभियान को लेकर कई लोगों में डर देखने के लिए मिल रहा है। अब इसी बीच हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन का बड़ा बयान आया है। हाल ही में उन्होंने कहा है कि, 'टीकाकरण कोरोनावायरस के ताबूत में आखिरी कील साबित होगा।' केवल यही नहीं बल्कि उन्होंने यह भी कहा है कि 'अबतक देश में करीब 8 लाख लोगों को टीका लगाया जा चुका है। इनमें से गिनती के लोगों में साइड इफेक्ट देखने को मिले हैं जो साधारण तौर पर सामान्य वैक्सीन में भी हो जाते हैं।'

इसके अलावा हेल्थ मिनिस्टर ने आगे अपनी बातों को बढ़ाते हुए यह भी कहा कि, 'दुर्भाग्य की बात है कि देश में कुछ लोग जानबूझकर केवल राजनीतिक कारणों से वैक्सीनेशन के खिलाफ दुष्प्रचार करते हैं। इससे समाज के एक छोटे वर्ग में वैक्सीन को लेकर झिझक पैदा हुई है। सरकार चाहती है कि जिन लोगों के मन में दुष्प्रचार के कारण गलतफहमी हुई है, उनको भी वैक्सीन नहीं लेने के कारण कोई नुकसान नहीं होना चाहिए।' यह सभी बातें उन्होंने कोरोनावायरस वैक्सीन को लेकर आयोजित एक कार्यक्रम में कही।

इस दौरान उन्होंने यह भी कहा, ''हमारे देश में कल तक क़रीब 8 लाख लोगों को टीका लग गया, उनमें गिनती के लोगों को साइड इफेक्ट हुए हैं जो साधारण तौर पर सामान्य वैक्सीन में होते हैं।'' आप सभी को हम यह भी बता दें कि इस समय देश में फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाई जा रही है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की कोविशील्ड (जिसे सीरम इंस्टिट्यूट उत्पादित कर रहा है) और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन से इस समय टीकाकरण किया जा रहा है। 

अगर आपने खत्म कर दी ये 'बुलेट थाली' तो आप जीत सकते हैं 'रॉयल एनफील्ड'

शपथ लेने के कुछ घंटे बाद ही बिडेन ने 17 कार्यकारी आदेशों के ज्ञापनों और घोषणाओं पर किए हस्ताक्षर

भाई को याद कर इमोशनल हुई बहन श्वेता सिंह कीर्ति, कहा- 'हैप्पी सुशांत डे'