गुरु नानक जयंती पर जरूर पढ़े उनकी अमृतवाणी

Nov 30 2020 12:00 PM
गुरु नानक जयंती पर जरूर पढ़े उनकी अमृतवाणी

आज गुरु नानक जयंती है। यह पर्व बहुत ही ख़ास है जो आज 30 नवंबर सोमवार को मनाया जा रहा है। गुरु नानक देव का जन्म आज ही के दिन हुआ था। उनके जन्म दिवस पर कार्तिक पूर्णिमा का पर्व भी मनाया जाता है।  केवल यही नहीं बल्कि आज ही प्रकाश पर्व भी मनाया जा रहा है। गुरु नानक जी ने हमारे जीवन से संबंधित कई उपदेश दिए हैं जो आज उनकी जयंती पर हम आपको बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं आज उनके कुछ अमृत वचन।

1. ईश्वर एक है और उसे पाने का तरीका भी एक है। यही सत्य है। वो रचनात्मक है और वो अनश्वर है। जिनमे कोई डर नहीं और जो द्वेष भाव से परे है। इसे गुरु की कृपा द्वारा ही प्राप्त किया जा सकता है।

2. कोई भी ईश्वर को तर्क के माध्यम से समझ नहीं सकता, भले ही वह उम्र भर तर्क करे।

3. सांसारिक प्रेम की लौ जलाओ और उसकी राख की स्याही बनाओ, अपने हृदय को कलम बनाओ, अपनी बुद्धि को लेखक बनाओ और वह लिखो जिसकी कोई हद या अंत नहीं है।

4. जब शरीर मैला हो जाता है तो हम पानी से उसे साफ़ कर लेते हैं। उसी तरह जब हमारा मन मैला हो जाये तो उसे ईश्वर के जाप और प्रेम द्वारा ही स्वच्छ किया जा सकता है।

5. गुरु के द्वारा ही आपके जीवन में प्रकाश संभव है। गुरु उपकारक है। पूर्णशांति उनमे निहित है। गुरु ही तीनो लोकों में उजाला करने वाला प्रकाशपुंज है। और सच्चा शिष्य ही ज्ञान और शांति प्राप्त करता है।

गुरु नानक देव की जयंती आज, पीएम मोदी ने किया नमन, देशवासियों को दी बधाई

30 नवंबर को है कार्तिक पूर्णिमा, जानिए गुरु नानक देव की अमूल्य सीख

30 नवंबर को है गुरु नानक जयंती, यहाँ पढ़िए उनके 8 दोहे