एक फकीर के कारण चमकी थी शाहरुख खान की किस्मत, आज तक 'बाबा' की तलाश कर रहे है किंग खान

अक्सर कहा जाता है कि किस्मत में जितना लिखा होता है हमें उससे अधिक कुछ नहीं प्राप्त होता है। ये बात बॉलीवुड के मशहूर सुपरस्टार शाहरुख खान अच्छे से जानते हैं तथा ये भी जानते हैं कि उनकी किस्मत बेहतरीन हैं क्योंकि उनके सिर पर अजमेर शरीफ के उस फकीर का आशीर्वाद जो है, जिसने देखते ही शाहरुख खान के लिए भविष्यवाणी कर दी थी। 

वही दिल्ली में 2 नवंबर 1965 को जन्मे शाहरुख खान का जीवन सरल नहीं था। करियर के आरभिंक समय में वो इतने आकर्षक भी नहीं थे। मगर अपने अभिनय के दम पर सबसे पहले टेलीविज़न जगत के लिए काम किया। वागले की दुनिया, सर्कस टेलीविजन शो तथा फिर 'फौजी' के लिए उन्हें पहचान प्राप्त हुई तथा फिर फिल्मी करियर का आरम्भ भी हो गया है। बताया जाता है कि उन्होंने पहली मूवी 'दिल आसना है' साइन की थी। वहीं एक्टर के रूप में उनकी पहली फिल्म वर्ष 1992 में 25 जून को 'दीवाना' रिलीज हुई थी। 

वही एक इंटरव्यू में स्वयं शाहरुख खान ने अजमेर शरीफ के एक फकीर का वाकया सुनाया था। खबर के अनुसार, उस समय शाहरुख खान अपनी मां की गैर सलामती के लिए अजमेर शरीफ दरगाह गए थे। उसी समय उनकी जेब से पर्स चोरी हो गया। जिसमें 5 हजार रुपये थे। शाहरुख चिंतित हो रहे थे कि तभी एक बाबा आए तथा उनसे बोला कि तुम हजार रुपये के लिए परेशान मत हो, जल्द ही तुम्हारे पास करोड़ों रुपये आएंगे। शाहरुख आज भी इस बात को भूले नहीं हैं। इंटरव्यू के चलते एक बार शाहरुख ने कहा था कि उन पर अजमेर शरीफ की दुआ हैं। उनका कहना था कि वो वहां मां की दुआ के लिए गए थे, मगर मां नहीं रहीं। लेकिन अजमेर शरीफ की दुआएं आज भी उनके साथ हैं। शाहरुख़ खान ने कहा था कि उस फकीर को कई बार उन्होंने तलाशने का प्रयास किया, मगर उस फकीर के साथ शाहरुख की एक ही भेंट लिखी थी। जो आया तथा दुआ देकर चला गया। 

काम से 1 महीने की छुट्टी पर जा रहीं कैटरीना कैफ, दिसंबर में है शादी!

फैंस से लेकर बॉलीवुड स्टार्स तक, सबने इस तरह स्पेशल बनाया शाहरुख का बर्थडे

'लानत तुम पर सारा शर्म करो', केदारनाथ मंदिर में दर्शन करने पर ट्रोल हुईं सारा अली खान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -