कुछ ऐसा है लालकृष्ण आडवाणी का जीवन

बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी का जन्म आज ही के दिन यानी 8 नवंबर को हुआ था। वह 94 साल के हो चुके है।  लालकृष्ण आडवाणी का जन्म कराची के एक हिंदू व्यापारी परिवार में आडवाणी और ज्ञानी देवी के यहाँ हुआ था। उन्होंने अपना एजुकेशन करियर सेंट पैट्रिक हाई स्कूल कराची से पूरा किया और फिर गवर्नमेंट कॉलेज हैदराबाद सिंध में एडमिशन लिया। उनका परिवार विभाजन के दौरान इंडिया आकर बस गया, जहाँ उन्होंने बॉम्बे विश्वविद्यालय के गवर्नमेंट लॉ कॉलेज से कानून में स्नातक किया, जहाँ वे दीवान परमानंद गंगवानी के साथ मित्र बन गए, और उन्हें राम जेठमलानी और एके ब्रोही ने सबसे अच्छे वकीलों को खड़ा किया है।     

लालकृष्ण आडवाणी ने फरवरी 1965 में कमला आडवाणी (1932–2016) से विवाह कर लिया। उनके दो बच्चे है जिनके नाम है जयंत और प्रतिभा।  प्रतिभा आडवाणी टीवी सीरियल शो की प्रोडूसर है, और अपने राजनीतिक गतिविधियों में अपने पिता का भी समर्थन करती हैं। उनकी पत्नी का निधन 6 अप्रैल 2016 को हो गया था। सांसद नहीं होने के बावजूद आडवाणी कारणों से दिल्ली के एक आधिकारिक बंगले में रह रहे है।

लालकृष्ण आडवाणी ने वर्ष 1941 में 14 साल के लड़के के रूप में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) में शामिल हो गए। वह कराची शाखा का एक प्रचारक (पूर्णकालिक कार्यकर्ता) बन गए और उन्होंने कई शंकुल विकसित किए। विभाजन के उपरांत, लालकृष्ण आडवाणी को राजस्थान में मत्स्य-अलवर के प्रचारक के रूप में भेजा गया था। उन्होंने 1952 तक अलवर, भरतपुर, कोटा, बूंदी और झालावाड़ जिलों में काम किया।

योगी-मोदी पर अखिलेश का तंज, बोले- बाबा की सड़क पर तो कमर दर्द हो जाएगा...

भाजपा नेता के बयान पर भड़के संजय राउत, बोले- जेल क्या आपके पिताजी ने बनवाई है?

इंडोनेशिया के पूर्वी भाग में आया भूकंप, जानिए क्या रही तीव्रता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -