काऊबॉय के नाम से प्रसिद्ध थे फ़िरोज़ खान

काऊबॉय के नाम से प्रसिद्ध थे फ़िरोज़ खान

हिंदी सिनेमा में 70-80 के दशक के सबसे स्टाइलिश हीरो में फिरोज खान का नाम गिना जाता था। बता दे कि उन्हें बॉलीवुड का काऊब्वॉय कहा जाता था। 25 सितंबर 1939 को बंगलुरु में जन्मे फिरोज खान ने अपने शाही अंदाज को कभी नहीं छोड़ा। आज उनके जन्मदिन के दिन उनके जीवन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी आपके साथ सांझा करने जा रहे है।

वे एक अभिनेता होने के साथ-साथ निर्माता और निर्देशक भी थे। उनका जन्म जुल्फिकार अली शाह खान के घर में हुआ था। फिरोज खान का परिवार अफगानिस्तान से भारत पहुंचे थे। उनके पिता अफगानिस्तान के गजनी में रहते थे जबकि उनकी मां ईरानी थीं। फिरोज खान को देर रात तक पार्टियां करने का शौक था। उनकी पार्टी में बॉलीवुड के बड़े-बड़े सितारे शामिल होते थेे। फिरोज खान के इस शौक से सभी वाकिफ थे। ऐसी ही एक पार्टी के दौरान फिरोज खान की मुलाकात सुंदरी से हुई।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि 5 साल तक डेट करने के बाद फिरोज और सुंदरी ने 1965 में शादी कर ली। फिरोज खान और सुंदरी के दो बच्चे हुए। बेटी लैला का जन्म 1970 में हुआ था जबकि फरदीन खान का जन्म 1974 में हुआ। उस वक्त खबरें ऐसी थीं कि शादी के कुछ ही सालों बाद सुंदरी को पता चला कि फिरोज किसी लड़की को डेट कर रहे हैं। फिरोज की मुलाकात एयरहोस्टेस ज्योतिका धनराजगिर से हुई। ज्योतिका के पिता राजा महेंद्रगिर धनराजगिर थे। पहले तो सुंदरी ने फिरोज को समझाने की खूब कोशिश की लेकिन जब वो नहीं माने तो दोनों एक ही घर में अलग-अलग रहने लगे। वहीं जब ज्योतिका ने शादी की बात की तो फिरोज मुकर गए। ज्योतिका को फिरोज के इस रवैये से झटका लगा था। जिसके बाद वो लंदन में शिफ्ट हो गईं। वहीं शादी के 20 साल बाद साल 1985 में फिरोज खान और सुंदरी के बीच तलाक हो गया था।

मशहूर गायक एसपी बालासुब्रमण्यम की हालत नाजुक, अस्पताल में मिलने पहुंचे कमल हासन

इस फिल्म से मिली थी दिव्या दत्ता को एक अलग पहचान

अपने अनोखे अंदाज से फिरोज खान ने किया सबके दिलों पर राज