तुमकुर लोकसभा सीट: कांग्रेस के गढ़ से ताल ठोंकेंगे देवेगौडा, भाजपा से होगा सीधी टक्कर

तुमकुर लोकसभा सीट: कांग्रेस के गढ़ से ताल ठोंकेंगे देवेगौडा, भाजपा से होगा सीधी टक्कर

तुमकुरू: कर्नाटक के डिप्टी सीएम जी परेश्वमर ने कहा है कि तुमकुरू लोकसभा सीट गठबंधन भागीदार जेडीएस को सौंपने के कांग्रेस के फैसले से यहाँ उनकी पार्टी की पकड़ कमजोर नहीं पड़ेगी और उनका अंतिम मकसद राहुल गांधी को पीएम बनते देखना है. पुराने मैसूर क्षेत्र में पड़ने वाली इस लोकसभा सीट पर कांग्रेस के प्रत्याशी ने 10 बार, जबकि भाजपा ने चार बार जीत दर्ज की है. यह निर्वाचन क्षेत्र 1952 से 1989 तक कांग्रेस का मजबूत किला रहा था.

पूर्व पीएम और जेडीएस सुप्रीमो एच डी देवगौड़ा तुमकुरू में पूर्व सांसद जीएस बासवराज के विरुद्ध चुनाव रण में हैं, जो भाजपा के प्रत्याशी हैं. परमेश्वर ने यहां कोलाबा गांव में चुनाव प्रचार से अलग मीडिया को दिए गए एक इंटरव्यू में कहा है कि, 'तुमुकरू लोकसभा सीट देवगौड़ा को देने का फैसला वहां कांग्रेस के जनाधार को कमजोर नहीं करेगा. हमारा अंतिम मकसद राहुल गांधी को भारत का पीएम बनने देखना है.' उन्होंने कहा है कि, 'यहां तक कि देवगौड़ा ने भी राहुल गाँधी को पीएम बनाने की अपनी आकांक्षा जताई है.'

उल्लेखनीय है कि यह लोकसभा सीट वर्तमान सांसद एम. गौड़ा को नहीं दिए जाने से परमेश्वर और कांग्रेस के अन्य स्थानीय नेता पहले ही चिंतित थे. एम गौड़ा ने स्वीकार किया कि जब यह सीट जेडीएस के हवाले कर दी गई, तब शुरूआत में वे थोड़ी उलझन में थे, किन्तु राहुल और अन्य केंद्रीय नेताओं से मुलाकात करने के बाद उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपना नाम वापस ले लिया.

खबरें और भी:-

वाड्रा की राजनीतिक एंट्री पर कुछ ऐसा बोल गए राज बब्बर

मोदी को रोकने के लिए सपा-बसपा ने किया गठबंधन : राजनाथ सिंह

कांग्रेस के साथ गठबंधन पर, फिर कुछ ऐसा बोले केजरीवाल