इस भारतीय फुटबॉलर ने रचा इतिहास, किया अनोखा कारनामा

नई दिल्ली : गुरप्रीत सिंह संधू यूरोपा लीग के शीर्ष क्लब की तरफ से खेलने वाले पहले भारतीय फुटबॉल खिलाडी बन गए हैं. भारतीय राष्ट्रीय टीम के गोलकीपर ने यूरोपा लीग क्वालीफायर में नार्वे के क्लब स्टाबीक एफसी की तरफ से वेल्स के क्लब कोनाह क्वे नोमडास एफसी के खिलाफ वेल्स के रील में मैच खेला. रोपा लीग का स्थान यूएफा चैंपियन्स लीग से थोड़ा कम है.

रप्रीत हालांकि चोटिल होने के कारण केवल 28 मिनट तक ही मैदान पर रहे और उनकी जगह सायोबा मैंडी ने संभाली जो इस मैच से पहले तक टीम की पहली पसंद के गोलकीपर थे.

गुरप्रीत ने कहा, मुझे गर्व है लेकिन साथ ही निराशा भी है कि हाथ की चोट के कारण मुझे बाहर होना पड़ा है. लेकिन यह खेल का हिस्सा हैं और हम इसमें कुछ नहीं कर सकते हैं.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -