गुरदासपुर संसदीय उपचुनाव : पहले दिन नामांकन दाखिल करने नहीं पहुॅंचे प्रत्याशी

पंजाब। पंजाब के गुरदासपुर में उपचुनाव को लेकर सरगर्मी तेज़ हो गई है। यहाॅं पर सांसद विनोद खन्ना के, निधन के बाद, सीट खाली हो गई और, अब 11 अक्टूबर को इस संसदीय सीट पर उपचुनाव होने हैं। हालांकि उपचुनाव की नामांकन प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है लेकिन, पहले दिन किसी ने भी प्रत्याशी के तौर पर पर्चा दाखिल नहीं किया।

उपचुनाव की प्रक्रिया को लेकर मुख्य चुनाव अधिकारी, पंजाब कार्यालय के प्रवक्ता ने बताया कि, अधिसूचना जारी होने के बाद नामांकन प्रक्रिया प्रारंभ हो गई। उनका कहना था कि पहले दिन, नामांकन दाखिल करने कोई भी नहीं पहुॅंचा। चुनाव आयोग के निर्देशित कार्यक्रम के अनुसार, इस सीट पर उपचुनाव 11 अक्टूबर को होना है। इसके लिए शुक्रवार से नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया प्रारंभ हुई।

नामांकन जमा करने की अंतिम तिथि 22 सितंबर है और, नामांकन पत्रों की जाॅंच 25 सितंबर तक होगी। प्रत्याशी 27 सितंबर तक अपना नाम वापस ले सकेंगे। चुनाव आयोग के सचिव अविनाश कुमार और, प्रतिनियुक्ति पर वहां भेजे गए दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी चंद्र भूषण कुमार एवं पंजाब के अतिरिक्त चुनाव आयुक्त मंजीत सिंह ने चुनावी तैयारियों की समीक्षा के लिए, गुरदासपुर और पठानकोट जिले के अधिकारियों के साथ बैठक की।

मुख्य चुनाव अधिकारी ने दोनों जिलों के प्रशासन को निर्देश दिये। यहाॅं पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था का प्रबंध किया जा रहा है। गौरतलब है कि, गुरदासपुर में आतंकी वारदातें हो चुकी हैं और यह क्षेत्र पाकिस्तान से काफी नज़दीक है। ऐसे में लोकतांत्रिक प्रक्रिया में बाधा पहुॅंचने की संभावना रहती है। इस सीट पर भाजपा व कांग्रेस अपनी - अपनी जोर आजमाईश करने में लगी हैं।

लोकसभा उप चुनाव बने, योगी की प्रतिष्ठा का सवाल

DUSU में एनएसयूआई का दबदबा, राॅकी तुसीद बने अध्यक्ष

JDU का प्रतीक चिन्ह सिर्फ मेरा - शरद यादव

DUSU चुनाव के नतीजे पर एबीवीपी, एनएसयूआई की नज़र

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -