शवों को दूसरे देशों से भारत लाना होगा और सस्ता

Jan 28 2019 03:12 PM
शवों को दूसरे देशों से भारत लाना होगा और सस्ता

नई दिल्ली : खाड़ी देशों में भारतीयों की संख्या 90 लाख तक पहुंच गई है। जिनमें बहुमत में ब्लू कॉलर वाले वर्कर हैं। सरकारी आंकड़े बताते हैं कि इस क्षेत्र में औसतन प्रति दिन 10 भारतीयों की मौत होती है। इनमें से अधिकतर की मौत प्राकृतिक कारणों और सड़क हादसों में होती है।

हिमाचल में स्वाइन फ्लू ने पसारे पैर, ऐसे करें इस बीमारी से बचाव

इतना किराया वसूला जायेगा 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार विदेश मंत्रालय, नागरिक उड्डयन मंत्रालय और एयर इंडिया के बीच कई दौर की बातचीत के बाद अब आखिर में समाधान निकल गया है। अब फ्लैट रेट पर मृतकों को उनके मूल स्थान लाया जा सकेगा। इसके लिए एयर इंडिया कुछ किराया वसूलेगा। शुरुआत में 6 खाड़ी देशों के लिए फ्लैट रेट बताया गया है।

फ़िलहाल ठंड से नहीं मिलेगी निजात, पहाड़ी क्षेत्रों में इस दिन से फिर शुरू होगी बारिश और हिमपात

अब इस आधार पर होगा किराया 

जानकारी के अनुसार अधिकारियों का कहना है कि इस देश से शवों को भारत वापस लाने में जितना खर्च आता है, एयर इंडिया में उससे 40 फीसदी कम खर्च आएगा। अधिकारियों ने कहा कि अगर शव 12 साल से कम उम्र के बच्चे का है तो भारत लाने में फ्लैट रेट से आधा किराया लगेगा। वही अधिकारियों का कहना है कि एयरलाइंस शवों को लाने के लिए उसके वजन के आधार पर चार्ज करती है। जितना अधिक शव का वजन होगा उतने ही अधिक पैसे लिए जाएंगे। 

मदुरै पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, एम्स के सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का किया शिलान्यास

यूपी के इन शहरों में जारी हुई भारी बारिश व ओलावृष्टि की चेतावनी

नैनीताल में हुई बर्फबारी से खिले पर्यटकों के चेहरे