पंजाब ने रोका गुजरात का विजयी रथ, हार पर कप्तान हार्दिक पंड्या ने दिया बड़ा बयान

नई दिल्ली: पंजाब किंग्स (PBKS) के खिलाफ मुकाबले हारने के बाद गुजरात टाइटन्स (GT) के कप्तान हार्दिक पंड्या ने मंगलवार को कहा कि कठिन परिस्थितियों का सामना करने के लिए उन्होंने टॉस जीतकर बैटिंग करने का फैसला लिया था। उन्होंने कहा कि इस पिच पर 170 रन का स्कोर प्रतिस्पर्धी होता, मगर लगातार विकेट गंवाते रहने के चलते टीम अधिक बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर सकी। पहले बैटिंग करते हुए गुजरात की टीम आठ विकेट पर 143 रन ही बना सकी। जिसके जवाब में पंजाब ने 16 ओवर में दो विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर जीत दर्ज कर ली। 

पंजाब के लिए शिखर धवन ने नाबाद 62, भानुका राजपक्षे 40 और लियाम लिविंगस्टोन ने नाबाद 30 रन का योगदान दिया।  हार्दिक ने मैच के बाद पुरस्कार समारोह में कहा कि, 'जाहिर है कि हम यहां प्रतिस्पर्धी स्कोर के नज़दीक भी नहीं थे। इस पिच पर 170 रन का स्कोर आदर्श होता। मगर हम विकेट गंवाते रहे और लय प्राप्त नहीं कर सके।' उन्होंने आगे कहा कि, 'हम मुश्किल स्थिति में अपनी टीम को परखना चाहते थे। इसलिए पहले बैटिंग का फैसला किया था। मुझे पता था कि नई गेंद हरकत कर सकती है, मगर यदि आप लगातार विकेट गंवायेंगे तो दबाव में ही रहेंगे।'

पंजाब के कप्तान मयंक अग्रवाल ने कहा कि उनकी टीम इस लय को जारी रखकर लगातार मुकाबले जीतना चाहेगी। उन्होंने कहा है कि, 'कागिसो रबाडा ने अच्छी गेंदबाजी की जिससे हमारे सामने छोटा टारगेट था। इसके बाद शिखर और राजपक्षे के बीच अच्छी साझेदारी हुई।' उन्होंने कहा कि, 'हम यहां से लगातार मुकाबले जीतना चाहते हैं। जॉनी बेयरस्टो से पारी की शुरुआत कराने का फैसला इसलिए किया था क्योंकि उन्होंने इस भूमिका में बेहतर प्रदर्शन किया है। मैंने खुद चौथे क्रम पर बैटिंग करने का सोचा था, मगर हमारे दिमाग में नेट रन रेट था इसलिए लिविंगस्टोन को चौथे क्रम पर भेजा गया।'

ऑडी और पोर्श की फॉर्मूला 1 जल्द होगी एंट्री

खेलो इंडिया विश्वविद्यालय में उद्घाटन के समय मची भगदड़

युएफा ने रूस की फुटबॉल टीमों पर लगा दिया बैन, जानिए क्या है वजह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -